सावधान:कोरोना से मृत सैफ अली के अस्पताल में भर्ती रिश्तेदार हो गए फरार,लोगों में दहशत

सावधान:कोरोना से मृत सैफ अली के अस्पताल में भर्ती रिश्तेदार हो गए फरार,लोगों में दहशत

पटना : बड़ी खबर है लखीसराय से  जहां  अस्पताल से कोरोना से मृत मुंगेर के रहने वाले सैफ अली के साथ रिश्तेदार फरार हो गए हैं। बता दें की सैफ अली कतर में रहता था और वहां से 12 मार्च को इंडिया वापस लौटा था। सैफ अली को किडनी की बीमारी थी इंडिया लौटने के बाद वह सीधे अपने घर मुंगेर गया। मुंगेर के स्थानीय अस्पतालों में उसने अपना इलाज करवाया उसके बाद वह पीएमसीएच में भर्ती हुआ। फिर एम्स आया और उसकी मौत हो गई ।पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि वह कोरोना पीड़ित है।

अस्पताल से फरार रिश्तेदार आखिर कहां गए,पुलिस हलकान ,समाज परेशान

कतर से आए सैफ अली के परिवार वालों को और यहां तक कि एम्स में उसके भर्ती होने से लेकर मौत होने तक चिकित्सकों तक को पता नहीं था कि यह कोरोना पीड़ित है ।सैफ अली के मरने के बाद उसकी लाश को परिजनों को सौंप दिया गया। लेकिन जब एम्स के चिकित्सकों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखा तो उनके होश उड़ गए  की मृत सैफ अली कोरोना पॉजिटिव था। आनन-फानन में सरकार को सूचित किया गया। फिर विशेष पुलिस व्यवस्था कर उसको दफन किया गया। लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। 

गौरतलब है कि कोरोना वायरस का संक्रमण बड़ी तेजी से फैलता है ।अब इसका जवाब किसके पास है कि सैफ अली 12 तारीख के आने के बाद से कहां कहां गया और कितने लोगों को संक्रमित किया। इससे सतर्क और डरे हुए ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस ने उसके सात रिश्तेदारों को अस्पताल में भर्ती करवाया ।ताकि उनकी जांच हो सके क्योंकि यह 7 रिश्तेदार लगातार उसके संपर्क में थे। लेकिन विडंबना देखिए कि रविवार की रात उसके  रिश्तेदार अस्पताल से फरार हो गए। मृत सैफ अली की  रिश्तेदारी लखीसराय के सूर्यगढ़ा थाना क्षेत्र के एक गांव में थी। रिश्तेदारों के फरार होने के बाद इलाके में लोगों के बीच दहशत फैल गई है। जिलाधिकारी शुभेन्द्र कुमार चौधरी ने बताया है कि 14 दिनों की निगरानी में रखा गया था। लेकिन भर्ती होने के बाद रविवार की देर रात यह लोग हंगामा कर फरार हो गए।

Find Us on Facebook

Trending News