कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत बायोटेक का ऐलान, दुष्परिणाम सामने आने पर मिलेगा मुआवजा

कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत बायोटेक का ऐलान, दुष्परिणाम सामने आने पर मिलेगा मुआवजा

DESK : आज से पूरे देश में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत हो गयी है. लेकिन कई इलाकों में कोरोना के वैक्सीन को लेकर कई तरह की आशंका जाहिर की जा रही है. इसके साइड इफेक्ट को लेकर लोगों के कई लोगों के मन में संशय की स्थिति है. देश के कई विपक्षी पार्टियों ने इस पर सवाल खड़ा किया है. इस बीच कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर भारत बायोटेक ने बड़ा ऐलान किया है. कंपनी का कहना है कि कोवैक्सीन के लगाए जाने पर दुष्परिणाम सामने आने की स्थिति में कंपनी मुआवजा देगी. भारत सरकार ने भारत बायोटेक से कोरोना वैक्सीन की 55 लाख डोज खरीदने का फैसला किया है.

कंपनी का कहना है कि वैक्सीन दिए जाने वाले शख्स को एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर भी करना होगा. कंपनी का कहना है कि किसी अनहोनी की स्थिति में कंपनी की तरफ से मुआवजा दिया जाएगा. भारत बायोटेक ने कहा कि कोवैक्सीन के लगाए जाने पर किसी लाभार्थी को कोई स्वास्थ्य समस्या होती है तो सरकारी अस्पताल में देखरेख की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

कंपनी ने आगे कहा कि किसी गंभीर दुष्परिणाम की स्थिति में कंपनी की तरफ से मुआवजा दिया जाएगा. यह मुआवजा तभी दिया जाएगा जब दुष्परिणाम का कारण वैक्सीनेशन ही होगा. बता दें कि पहले और दूसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल में कोवैक्सीन ने एंटीडोट्स उत्तपन करने की क्षमता देखी गई थी. वैक्सीन बना रही कंपनी की तरफ से कहा गया कि वैक्सीन की क्लीनिकल क्षमता के बारे में  अब भी बताया जाना शेष है. तीसरे फेज के क्लीनिकल ट्रायल के आंकड़ों का अध्य्यन किया जा रहा है.

उधर देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर उत्साह का माहौल है. लाखों की संख्या में आज स्वास्थ्यकर्मियों ने कोरोना का वैक्सीन लिया है. जगह जगह इसके लिए पूरा इंतजाम किया गया था. 

Find Us on Facebook

Trending News