भ्रष्ट कुलपति हाजिर हों, SVU ने मगध यूनिवर्सिटी के 'कुलपति' को पेश होने का दिया आदेश, जानें...

भ्रष्ट कुलपति हाजिर हों, SVU ने मगध यूनिवर्सिटी के 'कुलपति' को पेश होने का दिया आदेश, जानें...

पटना. स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने मगध यूनिवर्सिटी के कुलपति राजेंद्र प्रसाद 3 जनवरी को हाजिर होने का आदेश दिया है. विशेष निगरानी इकाई के एसपी ने पत्र भेजकर भ्रष्ट कुलपति को हाजिर होने को कहा है. कुलपति राजेंद्र प्रसाद को 3 तारीख को हर हाल में विजिलेंस यूनिट के मुख्यालय में हाजिर होना होगा. इसके बाद जांच एजेंसी पूछताछ करेगी. कुलपति से पूछताछ के बाद ही जांच आगे बढ़ेगी. हालांकि SVU को कुलपति के बारे में कोई जानकारी नहीं है कि वे कहां हैं. उन्होंने जांच एजेंसी को कोई जानकारी भी नही दी है. ऐसे में SVU ने आमलोगों से आग्रह किया है कि लोग कुलपति के बारे में सूचना दें.

रजिस्ट्रार सहित चार भेजे गये जेल

बिहार के गया जिला के बोधगया स्थित मगध विश्वविद्यालय में हुए घोटाले के मामले में विशेष निगरानी इकाई ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई की. निगरानी द्वारा विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार, प्राक्टर समेत चार को गिरफ्तार किया गया. निगरानी की टीम लाइब्रेरियन प्रो. विनोद कुमार, प्राक्टर जयनंदन प्रसाद सिंह, रजिस्ट्रार पुष्पेंद्र प्रसाद वर्मा और असिस्टेंट सुबोध कुमार को गिरफ्तार कर पूछताछ की. इसके बाद सभी को पटना स्थित विशेष निगरानी न्यायालय में पेश किया गया. यहां कोर्ट ने रजिस्ट्रार सहित चार आरोपियों को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

30 करोड़ का घोटाला

बिहार की विशेष निगरानी इकाई (एसवीयू) की टीम ने मगध विश्वविद्यालय के कुलपति राजेंद्र प्रसाद के विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस दौरान एसवीयू ने पाया कि राजेंद्र प्रसाद ने पद पर रहते हुए सामान खरीदी और नियुक्ति आदि के मद में लगभग 30 करोड़ रुपये की गड़बड़ी की है. इसके बाद उनके कई ठिकाने पर छापेमार कार्रवाई की गयी है.

90 लाख नकद दस्तावेज भी हुए थे बरामद

बता दें कि बीते दिनों स्पेशल विजलेंस यूनिट की कोर्ट से आदेश प्राप्त कर टीम ने गया स्थित राजेंद्र प्रसाद के निवास कार्यालय एवं गोरखपुर स्थित उनके निजी आवास पर तलाशी शुरू की गई थी. इस मामले में आरोपी कुलपति प्रो. राजेंद्र प्रसाद के बोधगया से लेकर यूपी के गोरखपुर तक के ठिकानों पर छापेमारी कर चुकी है. इस छापेमारी के दौरान उनके पास से करीब 90 लाख रुपए कैश, 15 लाख के जेवरात, 6 लाख की विदेशी मुद्रा और लगभग 1 करोड़ रुपए के मूल्य के जमीन के कागजात बरामद किए गए थे.



Find Us on Facebook

Trending News