AK-47-कारबाइन भेजवा दीजिए कोर्ट में ही गेम बजा देंगे, 2 कुख्यातों के खात्मे का 'पाठक' गैंग का प्लानिंग हुआ आउट...

AK-47-कारबाइन भेजवा दीजिए कोर्ट में ही गेम बजा देंगे, 2 कुख्यातों के खात्मे का 'पाठक' गैंग का प्लानिंग हुआ आउट...

PATNA: बिहार में अपराधियों का खौफ चरम पर है। अपराधी जब और जहां चाह रहे घटना को अंजाम देकर सुशासन को खुली चुनौती दे रहे हैं. पटना हो या अन्य जिला हर जगह लोग क्राइम से कराह रहे हैं. पुलिस का इकबाल दांव पर है। सीएम नीतीश की क्राइम मीटिंग का भी कोई असर नहीं हो रहा। वैसे बिहार में कोर्ट कैंपस में हत्या का दौर काफी पहले से ही जारी है। न्यायालय परिसर में न्यायिक अभिरक्षा में कैदियों की हत्या को लेकर हाईकोर्ट ने भी संज्ञान लिया और कोर्ट परिसर की सुरक्षा पुख्ता करने का आदेश दिया था। एक बार फिर से कोर्ट में 2 कुख्यात की हत्या की प्लानिंग आउट हो गया है। दो अपराधियों के बीच 2 कुख्यातों को कोर्ट परिसर में ढ़ेर करने वाली बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ है। वायरल ऑडियो में दो बदमाश बातचीत कर रहे-लक्ष्मी सिंह को मुजफ्फरपुर और टुन्ना सिंह को मोतिहारी कोर्ट में मार देंगे। पाठक जी से एके-47 और कारबाइन भेजवा दीजिए।हालांकि वायरल ऑडियो की सत्यता की पुष्टि न्यूज4नेशन नहीं करता है।

वायरल ऑडियो में हत्या वाली प्लानिंग  

वायरल ऑडियो में दो अपराधियों के बीच बातचीत है। फोन करने वाले शख्स ने कहा- कैसे हैं अरविद जी। ठीक हैं। आप केशव जी नरहां। हां, आप कहां हैं हम गोलू दूबे के साथ मुजफ्फरपुर आए हैं। आप कहां हैं-हम नरकटिया आए हैं। क्या आदेश है बॉस...।इसके बाद शुरू होता है गेम बजाने की बातचीत. शख्स आगे कहता है- भागलपुर से लक्ष्मी सिंह मुजफ्फरपुर आया है। पाठक जी का फोन आया था, गेम बजाने के लिए। मुजफ्फरपुर जेल में अपने टच के कई लोग हैं। उनसे बात होता है। पाठक जी बोले हैं, अरविद व मनीष बिहारी से संपर्क करने के लिए। ठीक है, मुजफ्फरपुर जेल में लक्ष्मी सिंह को मरवा देना और टुन्ना सिंह को मोतिहारी कोर्ट में हमलोग मार देंगे। आप पाठक जी को बोल दीजिए कि अरविद जी को सामान बोले हैं। कारबाइन, 47, छह नया पिस्टल व कारतूस भेजवा दीजिए। अंदर पाठक जी का भी आदमी है। चिंता नहीं करना है। जेल में अपने आदमी से चाय या कॉफी में जहर रखकर मार देंगे। 


मोतिहारी-मुजफ्फरपुर में वायरल है ऑडियो

बताया जाता है कि फोन पर यह बातचीत दो बदमाश अरविंद व केशव के बीच की है, जो लक्ष्मी सिंह व टुन्ना सिंह के विरोधी होने का संकेत दे रहे हैं। इन दोनों के बातचीत का ऑडियो मोतिहारी और मुजफ्फरपुर में वायरल हो रहा है। बातचीत में दोनों बदमाश लक्ष्मी सिंह व टुन्ना की हत्या की साजिश रचते सुने जा रहे हैं। ऑडियो कब का है यह स्पष्ट नहीं हो सका है।बताया जाता है कि ऑडियो कुछ दिन पुराना है, क्योंकि लक्ष्मी सिंह दो दिन पहले भागलपुर से मुजफ्फरपुर आकर भागलपुर सेंट्रल जेल वापस जा चुका है। वहीं टुन्ना सिंह मोतिहारी केंद्रीय कारा में बंद है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कुख्यात बदमाश मुकेश पाठक लक्ष्मी व टुन्ना का धुर विरोधी है और दोनों के बीच एक दशक से विवाद चल रहा है।बताया जाता है कि कुख्यात संतोष झा समेत कई हत्याकांड का आरोपी मुकेश पाठक दोनों को रास्ते से खत्म करना चाहता है।वह जेल या कोर्ट कैंपस में ही अपने गुर्गों से जेल में बंद बदमाश लक्ष्मी व टुन्ना को खत्म कराना चाहता है।  

क्या कहते हैं अधिकारी

इधर,ऑडियो वायरल होने के बाद केन्द्रीय कारा मोतिहारी की सुरक्षा बढा दी गई है।जेल प्रशासन का कहना है कि कारा से सदर अस्पताल व न्यायालय में जाने वाले शातिर बदमाशों की सूचना एसपी व नगर थाना को भी दी जा रही है। सदर अस्पताल के कैदी वार्ड की त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। वहां पूर्व से मौजूद सभी गार्डो को बदल दिया गया है। वहीं मोतिहारी एसपी का कहना है कि लक्ष्मी और टुन्ना सिंह की हत्या की साजिश का ऑडियो वायरल होने के बाद मुजफ्फरपुर की एसआइटी लगातार जांच कर रही है। वहीं मोतिहारी पुलिस भी एसआइटी का सहयोग कर रही है। मोतिहारी न्यायालय परिसर में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था को पहले से और कड़ी कर दी गई है।

Find Us on Facebook

Trending News