जेडीयू का दलित – महादलित सम्मेलन : बिजली बिल माफ कराने के नाम पर जुटायी गयी थी भीड़ !

NALANDA :  बिहारशरीफ में आयोजित जेडीयूू के दलित-महादलित सम्मेलन में कई लोगों को गाड़ियों से ढो कर लाया गया था। कई लोगों के यह कह बुलाया गया था कि सभा में जाने से उनको मिलने वाली बिजली फ्री हो जाएगी। लेकिन उनको निराश हाथ लगी। यहां कई लोगों को खाना मिला और कुछ लोग बिना खाये घर लौट गये।

बिजली फ्री कराने की उम्मीद में आये लोग !

राजनीतिक सम्मेलनों में भीड़ जुटे के लिए कई तरह के पापड़ बेलने पड़ते हैं। शहर में आने-जाने और खाने की सुविधा दे कर कई ऐसे लोगों को भी सभा में बुलाया जाता है जो राजनीतिक रूप से बिल्कुल जागरूक नहीं होते। बिहारशरीफ में दलित- महादलित सम्मेलन में शामिल होने के लिए दूर दराज के गावों से भी लोग आये थे। इनमें कई महिलाएं भी शामिल थीं। यहां कई महिलाएं इस उम्मीद में आयीं थी कि हाकिम लोग उसका बिजली माफ कर देंगे। एक महिला ने बताया कि गरीब लोग कहां से और कैसे बिजली बिल भरेंगे ?  सरकार ने लाइन तो दे दिया लेकिन अब बिल भरना मुश्किल हो गया है। उसने बताया कि वह यहां बिजली बिल माफ कराने आयी थी। 

खाना नहीं मिलने की शिकायत

दलित- महादलित सम्मेलन में लोगों को मोटरगाड़ी से बिहारशरीफ लाया गया था। सम्मेलन में आये कई लोगों को खाना मिला तो कुछ लोग बिना खाये रह गये। सभा के बाद कुछ महिलाएं घर जाने के लिए एक गाड़ी में बैठी थीं। जब उनसे पूछा गया तो उनमें से एक ने कहा कि अभी भोजन नहीं मिला है। 

नालंदा से प्रणय राज की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News