डिप्टी सीएम ने माना - नेपाल सीमा से सटे बिहार के जिलों में आतंकी हमले का ज्यादा खतरा

डिप्टी सीएम ने माना - नेपाल सीमा से सटे बिहार के जिलों में आतंकी हमले का ज्यादा खतरा

KATIHAR :  पिछले कुछ माह से बिहार में आतंकी वारदातों के मामले लगातार सामने आए हैं। जिसमें दरभंगा ट्रेन ब्लास्ट प्रमुख है। इसके अलावा बिहार आतंकियों के छिपने के लिए प्रमुख ठिकाना भी बनता जा रहा है। बिहार होकर गुजरने वाली महत्वपूर्ण ट्रेनों और स्टेशन में आतंकी वारदात की आशंका को लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार के सुरक्षा एजेंसी एलर्ट मोड पर है,  अब बिहार के डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद ने भी इस बात को मान लिया है कि बिहार आतंकियों के निशाने पर हैं। देश के खिलाफ जो भी ना-पाक नजर उठाएंगे देश की सुरक्षा एजेंसी और सरकार इससे कड़ाई से निपटेगे।

सांसद ने आनेवाले कल के लिए तैयारी को बताई जरुरत

बिहार में जिस तरह से आतंकी मामले सामने आ रहे हैं, उसके बाद डिप्टी सीएम की बातों से कटिहार से सांसद दुलालचंद्र गोस्वामी ने अपनी रजामंदी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि नेपाल और बांग्लादेश के रेल सीमा से सटे सीमांचल का यह जिला अक्सर सुरक्षा के लिए विशेष महत्व रखता है,उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा एजेंसी सीधे तौर पर देश विरोधी ताकतों को जवाब तो दे ही रहा है लेकिन आने वाले दिनों के लिए भी हम लोगों को और मजबूत होना पड़ेगा

कटिहार में सैनिक स्कूल खोलने का प्रयास

कटिहार सांसद ने बताया कि देश की सुरक्षा को बेहतर करने के लिए इस साल बजट में सौ सैनिक स्कूल खोलने की घोषणा की गई है। जिसमें एक सैनिक स्कूल कटिहार में भी खोले जाने की मांग उन्होंने केंद्र सरकार से की है। उन्होंने बताया कि कि सैनिक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे अन्य बच्चों से ज्यादा जल्दी मानसिक रूप से सेना में जाने के लिए तैयार हो पाएंगे। साथ ही नेपाल सीमा से सटे होने के कारण यहां सैनिक स्कूल की जरुरत अधिक है।


Find Us on Facebook

Trending News