दिल्ली पहुंचे डिप्टी सीएम तेजस्वी, बोले- 'हार की समीक्षा करेगा महागठबंधन', PM मोदी से भी किया सवाल

दिल्ली पहुंचे डिप्टी सीएम तेजस्वी, बोले- 'हार की समीक्षा करेगा महागठबंधन', PM मोदी से भी किया सवाल

पटना. बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव आज सिंगापुर से दिल्ली पहुंच गये हैं। इस दौरान दिल्ली एयरपोर्ट पर उन्होंने कुढ़नी उपचुनाव के परिणाम को लेकर कहा हार कम वोटों से है, लेकिन हार क्यों हुई इसको हमलोग देखेंगे। उन्होंने कहा कि इससे पहले गोपालगंज उपचुनाव में भी महागठबंधन के प्रत्याशी को 1700 वोटों से हार मिली थी। उन्होंने कहा कि हार का अंतर कम है, लेकिन क्यों हो रही है। इसकी हम लोग समीक्षा करेंगे। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि कुढ़नी उपचुनाव के परिणाम पर तो पीएम मोदी बोल रहे हैं, लेकिन उन्होंने गोपालगंज और मोकामा उपचुनाव के परिणाम पर क्यों नहीं बोला।

पीएम मोदी पर बोले तेजस्वी

दरअसल, पीएम मोदी ने गुजरात विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत के बाद शुभकामनाएं दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि बिहार के मुजफ्फरपुर की कुढ़नी सीट पर बीजेपी की शुभ संकेत है। पीएम मोदी के इस बयान को बिहार में आगामी चुनाव को लेकर देखा जा रहा है। इसी पर तेजस्वी यादव ने कहा कि पीएम मोदी को कुढ़नी में ही क्यों गोपालगंज और मोकाम उपचुनाव के परिणाम पर भी बोलना चाहिए। दिल्ली एयरपोर्ट पर तेजस्वी ने कहा कि राजद सुप्रीम लालू यादव और रोहिणी आचार्या दोनों स्वस्था है। लालू यादव का 5 दिसंबर को किनडी ट्रांसप्लांट हुआ था। बेटी रोहिणी आचार्या ने उन्हें किडनी दी थी।

सीएम ने कांग्रेस और डिंपल को दी शुभकामनाएं

कुढ़नी विधानसभा उपचुनाव में जदयू को मुंह की खानी पड़ी। बीजेपी प्रत्याशी केदार गुप्ता ने जदयू के प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को 3249 वोटों से पराजित कर दिया। इस सीट पर चुनाव प्रचार प्रासर के लिए सीएम नीतीश भी मैदान में उतरे थे। उनके साथ डिप्टी सीएम तेजस्वी भी मौजूद थे। अब चुनाव परिणाम में महागठबंधन की सात पार्टी भी मिलकर बीजेपी को जीत का रास्ता नहीं रोक सकी। इस बीच सीएम नीतीश ने उत्तर प्रदेश के मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव में सपा उम्मीदवार डिंपल यादव की भारी जीत पर उन्हें हार्दिक बधाई दी है। साथ ही हिमाचल प्रदेश में भी कांग्रेस की जीत पर भी बधाई दी है। इस पर सीएम नीतीश विरोधियों के निशाने पर आ गये हैं।

कुढ़नी विधानसभा चुनाव का परिणाम जारी हो गया है। भाजपा प्रत्याशी केदार गुप्ता ने महागठबंधन के प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को 3249 वोटों से पराजित दिया है। इस चुनाव परिणाम के बाद जहां एक ओर जदयू के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने पार्टी में आत्ममंथन को जरूरत बताया है, वहीं राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने गरीब और कमजोर तबके के लोगों के वोट नहीं मिलने से जदयू प्रत्याशी की हार का कारण बताया है।

चुनाव परिणाम को लेकर जगदानंद का बड़ा दावा

दरअसल गुरुवार को मीडिया को संबोधित करते हुए राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कुढ़नी उप चुनाव परिणाम को लेकर कहा कि 19वें राउंड तक महागठबंधन के प्रत्याशी जीत रहे थे, लेकिन चार-पांच चरणों में उल्टफेर हो गया। उन्होंने कहा कि इस चरण में कमजोर और गरीब तबके के लोगों के वोट गिनती की जा रही थी। शायद ये लोग अपने मताधिकार का प्रयोग ठीक से नहीं किया।

पार्टी में आत्ममंथन की जरूरत- उपेंद्र कुशवाहा

वहीं कुढ़नी चुनाव परिणाम सामने आने के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू को आत्ममंथन करने की जरूरत बताया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा इस चुनाव परिणाम से जदयू को बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। उन्होंने ट्वीट किया, 'क्या हार में, क्या जीत में किंचित नहीं भयभीत मैं । कर्तव्य पथ पर जो मिला यह भी सही वो भी सही ।। कुढ़नी के परिणाम से हमें बहुत कुछ सीखने की ज़रूरत है। पहली सीख- “जनता हमारे हिसाब से नहीं बल्कि हमें जनता के हिसाब से चलना पड़ेगा।”


Find Us on Facebook

Trending News