डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने खेल हस्तियों से मांगे सुझाव,वरीय एनआईएस प्रशिक्षक ने इन 6 बिंदूओं पर दिया सुझाव......

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने खेल हस्तियों से मांगे सुझाव,वरीय एनआईएस प्रशिक्षक ने इन 6 बिंदूओं पर दिया सुझाव......

SUSHIL MODI MEETING वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए बिहार के खेल व खिलाड़ियों के लिए बनने वाले बजट पर बजट से पूर्व राज्य के उपमुख्य मंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा राज्य के खेल हस्तियों से सुझाव मांगे गए थे।आज बुलाई गई बैठक में राज्य के वरीय एनआईएस प्रशिक्षक अभिषेक कुमार द्वारा ये सुझाब दिये गए-

1. खिलाड़ी छात्रवृत्ति योजना

 विभिन्न खेलों में सब जूनियर एवं जूनियर खिलाड़ी जो सुदूर इलाकों में रहकर प्रशिक्षण,मैदान व संसाधन के अभाव में राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पदक प्राप्त कर रहे हैं और जिन्हें उम्र कम होने के कारण नौकरी व रोजगार भी नहीं मिल पा रहा है ऐसे खिलाड़ियों के लिए खिलाड़ी छात्रवृत्ति योजना शुरू की जाए।

2. खिलाड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना

राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता खिलाड़ियों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू की जाए जिससे वह खेल के दौरान किसी प्रकार की दुर्घटना, चोट व बीमारी होने पर अपना इलाज बेहतर से बेहतर हॉस्पिटल में कैशलेस करा सके। 

3. खिलाड़ी कल्याण कोष को सुलभ बनाया जाए

खिलाड़ी कल्याण कोष से 15 हजार से कम आय होने तथा वर्तमान खिलाड़ी (करेंट प्लेयर मेडलधारी) को ही सुविधा देने की बाध्यता समाप्त कर, वैसे सभी खिलाड़ियों को जीवन पर्यंत इस योजना का लाभ दिया जिन्होंने राज्य के लिए पदक जीता हो। 

4. प्रशिक्षकों की सेवा व प्रतिनियुक्ति

राज्य में प्रशिक्षकों की कमी दूर करने के लिए किसी भी विभाग में कार्यरत एनआईएस डिप्लोमा प्रशिक्षक विशेषकर उन्हें जिन्हें इस कोर्स को करने के लिए सरकार ने अनुदान (स्पांसर) किया है उन्हें उनकी योग्यता, अनुभव, रूचि व क्षमता के अनुसार यथा प्रशिक्षण, आयोजन, खेल प्रशासन व खेल पदाधिकारी के रूप में खेल विभाग में सेवाएं ली जाए। 

5. खिलाड़ी रोजगार योजना 

राज्य सरकार के उत्कृष्ट खिलाड़ियों की नियुक्ति शुरू की गई है, लेकिन अधिकांश खिलाड़ी जो उस अर्हता को नहीं प्राप्त कर रहे हैं उनके लिए लगभग 15 वर्षों से अधिक बंद पड़े राजकीय स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षण महाविद्यालय (गवर्मेंट फिजिकल कॉलेज) को सभी बाधाओं को दूर करते हुए शुरू की जाए जिससे ये खिलाड़ी शारीरिक शिक्षण व प्रशिक्षण प्राप्त कर न सिर्फ अपने लिए रोजगार बल्कि राज्य में सरकारी व गैरसरकारी मिडिल व हाईस्कूलों में रिक्त पड़े शारीरिक शिक्षक के पद पर नियुक्त होकर राज्य के खिलाड़ियों की नई पौध तैयार करने में अपनी भूमिका भी अदा कर सके। 

6. आयोजन सहायतार्थ योजना 

 पाटलिपुत्र स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों के लिए आयोजनकर्ताओं को इंडोर खेलों के लिए जिस प्रकार निशुल्क इंडोर हॉल उपलब्ध कराई जाती है उसी आउटडोर गेम्स के आउटडोर स्टेडियम नि :शुल्क दिया जाए।

Find Us on Facebook

Trending News