पटना में फर्जी कोरोना जांच रिपोर्ट लेकर हवाई यात्रा करने का खुलासा, पुलिस ने चार को किया गिरफ्तार

पटना में फर्जी कोरोना जांच रिपोर्ट लेकर हवाई यात्रा करने का खुलासा, पुलिस ने चार को किया गिरफ्तार

PATNA : पटना एयरपोर्ट से दूसरे राज्यो में जाने वाले यात्रियों को दो-दो हजार में कोरोना निगेटिव की रिपोर्ट देने वाले गिरोह के कारनामे हैरान कर देने वाला है. इस गिरोह से जुड़े चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया हैं और पूरे रैकेट को खंगाला जा रहा है.

बताते चलें की बुधवार को पटना जिला प्रशासन की टीम ने राजा बाजार के प्लाज्मा डायग्नोस्टिक में छापेमारी की और लैब मालिक समेत कर्मियों के खिलाफ शास्त्रीनगर थाने में मामला दर्ज कराया गया. दरअसल कुछ दिनों पहले ही विमानपत्तन प्राधिकरण यानि एयरपोर्ट ऑथोरिटी ने फर्जी कोरोना जांच रिपोर्ट के सहारे हवाई यात्रा कर रहे यात्रियों की शिकायत पटना जिलाधिकारी डॉ चन्द्रशेखर सिंह से की थी और पूरे मामले की जांच की बात कही थी. एयरपोर्ट के अधिकारियों का यह कहना था कि हवाई यात्रा के दौरान लोग फर्जी आरटीपीसीआर परीक्षण रिपोर्ट साथ में लेकर आ रहे हैं. जिसके माध्यम से एक राज्य से दूसरे राज्य में जा रहे हैं. पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी पटना एयरपोर्ट पर फर्जी rt-pcr परीक्षण रिपोर्ट रैकेट की जांच हेतु टीम का गठन किया. जांच टीम ने विभिन्न सूत्रों से प्राप्त जानकारी के आधार पर प्लाज्मा डायग्नोस्टिक राजा बाजार स्थित पिलर संख्या 83 के पास अवस्थित है वहां गठित टीम द्वारा छापेमारी की गई. जांच के क्रम में पाया गया कि प्लाज्मा डायग्नोस्टिक क्लिनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट के तहत निबंधित नहीं है. साथ ही डायग्नोस्टिक सेंटर की जांच में चार लैब का रिपोर्ट एवं पैसे का रसीद भी पाया गया. सेंटर द्वारा अवैध टेस्ट किये जाते थे और फर्जी रिपोर्ट जारी किये जाते थे. वहीं कोविड मानकों का पालन भी नहीं किया जा रहा था. जांच के बाद चार विभिन्न लैब की रिपोर्ट और पैसे का रसीद बरामद किया गया. जिन लैब के खिलाफ साक्ष्य मिले हैं. उनमें सरल पैथ लैब, जेनरल डायग्नोस्टिक इंटरनेशनल, हिंद लैब्स डायग्नोस्टिक सेंटर शामिल हैं. फिलहाल इन्हें जिला प्रशासन के द्वारा सील कर दिया गया है.

सिविल सर्जन डॉ विभा सिंह ने बताया कि इस बाबत अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अविनाश कुमार सिंह के आवेदन के आधार पर शास्त्रीनगर थाने में प्लाज्मा डायग्नोस्टिक पिलर नंबर 83 के सामने राजा बाजार पटना के मालिक और कर्मियों के विरुद्ध फर्जीवाड़ा का मामला दर्ज कराया गया है. पटना की सिविल सर्जन के अनुसार लैब संचालकों और कर्मियों की जल्द गिरफ्तारी भी होगी और एपिडेमिक एक्ट के तहत भी कठोर कार्रवाई की जाएगी.

पटना से अनिल की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News