कोरोना के डर से इस देश ने लगाया अबतक का सबसे सख्त लॉक डाउन, छोटे बक्से में महिलाएं और बच्चों को किया बंद

कोरोना के डर से इस देश ने लगाया अबतक का सबसे सख्त लॉक डाउन, छोटे बक्से में महिलाएं और बच्चों को किया बंद

N4N DESK : दुनिया के कई देशों में कोरोना संक्रमण तेजी से फ़ैल रहा है। इसके मद्देनजर उन देशों में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई है। इस बीच Coronavirus के कई वैरिएंट सामने आ चुके हैं। जिसमें ओमिक्रोन और डोमिक्रोन शामिल है। इस वायरस की वजह से चीन के अनयांग सहित कई शहरों में लॉकडाउन लगाया गया है। करीब दो करोड़ से अधिक लोग सख्त लॉकडाउन नियमों की जद में हैं। चीन की 'जीरो कोविड पॉलिसी' के तहत इन शहरों में काफी सख्ती बरती जा रही है। 'डेली मेल' के मुताबिक, चीन ने बड़े पैमाने पर क्वारंटाइन कैंपस का एक नेटवर्क बनाया है, जहां हजारों की संख्या में मेटल बॉक्स बनाए गए हैं। 

इनमें गर्भवती महिलाओं और बच्चों समेत तमाम लोगों को आइसोलेट किया जाता है। कोरोना की आशंका के चलते लोगों को मेटल के छोटे बॉक्सनुमा कमरे में 2 हफ्ते तक कैद कर रखा जा रहा है। सुविधा के नाम पर उसमें बेड और टॉयलेट दिए गए हैं। खुद चीनी मीडियाने इनकी तस्वीरें शेयर की हैं, जिनमें दिखाया गया है कि कैसे Shijiazhuang प्रांत में 108 एकड़ में बने क्वारंटाइन कैंपस में हजारों लोगों को रखा गया है। 

ये कैंपस जनवरी 2021 में पहली बार बनाए गए थे। यहां से निकले लोगों ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताया की यहां से निकलने की कोशिश करने पर पिटाई की जाती है। जबकि रहने के नाम पर एक छोटा कमरा और टॉयलेट दिया जाता है। वुहान और हुबेई प्रांत के बाकी हिस्सों को बंद करने के बाद से ये अबतक का सबसे सख्त लॉकडाउन बताया जा रहा है। अभी Shiyan में करीब सवा करोड़ लोग और Yuzhou में 10 लाख से अधिक लोग लॉकडाउन के तहत कैद हैं। जबकि Anyang शहर में 55 लाख आबादी घरों में बंद है। 


Find Us on Facebook

Trending News