छठ महापर्व के दौरान अलग अलग जिलों में डूबने से 40 लोगों की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

छठ महापर्व के दौरान अलग अलग जिलों में डूबने से 40 लोगों की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

PATNA : आज उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय छठ महापर्व का समापन हो गया। इस पर्व को लेकर लगभग हर जिले में प्रशासन की ओर से सुरक्षा और छठव्रतियों के सुविधा का दावा किया गया था। लेकिन छठ महापर्व के दौरान पुरे बिहार में अलग अलग जिलों में डूबने से 40 लोगों की मौत हो गयी है। 


सबसे अधिक कोसी, सीमांचल और पूर्वी बिहार में 21 लोगों की जान गयी है। मिली जानकारी के मुताबिक सहरसा और पूर्णिया में 5-5, सुपौल व भागलपुर में 3-3, कटिहार में दो और जमुई-बांका में एक-एक की जान गयी है। पूर्णिया में एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत हो गयी। 

वहीँ समस्तीपुर में छह, मुजफ्फरपुर में तीन और मधुबनी में एक की गई जान चली गयी है। जबकि रोहतास में तीन, कैमूर में दो, बेगूसराय और शेखपुरा में 1-1 को डूबने से अपनी जान गंवानी पड़ी है। 

पटना के गौरीचक में भी तीन लोगों डूबने से मौत हो गयी है। मृतकों में 17 बच्चे, किशोर व युवा के साथ 4 लड़कियां भी शामिल है। घटना के बाद मृतकों के परिजनों में मातम पसर गया है।

Find Us on Facebook

Trending News