चुनाव आयोग की सियासी दलों के साथ बैठक खत्म, राजद ने जेडीयू नेताओं से जुड़े अफसरों पर नजर रखने की मांग की

पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव भारत निर्वाचन आयोग की टीम राज्य क् दौरे पर है। बुधवार को आयोग की टीम ने सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की.मीटिंग में सभी राजनीतिक दलों की राय जानी. इस बैठक में जेडीयू की तरफ से अशोक चौधरी, ललन सिंह, संजय झा मौजूद रहे.वहीं आरजेडी की तरफ से सांसद मनोज झा, चितरंजन गगन शामिल हुए।इसके अलावे लोजपा,कांग्रेस समेत अन्य दल के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे.राजद ने चुनाव आयोग से अधिकारियों पर नजर रखने की मांग की।

RJD-कांग्रेस ने आयोग से अफसरों पर नजर रखने की मांग 

राजद और कांग्रेस के नेताओं ने चुनाव आयोग से मांग किया कि कई अफसरों के व्यक्तिगत संबंध सत्ताधारी दल के नेताओं से हैं, ऐसे में उन सारे अधिकारियों पर कड़ी नजर रखने की जरूरत है ताकि निष्पक्षता हो सके। आयोग के साथ हुई बैठक में आरजेडी की तरफ से शामिल हुए सांसद मनोज झा ने मतदान सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक 12 घंटे करने की मांग की. राजद सांसद मनोज झा ने मांग किया कि इस विधानसभा चुनाव में कई अफसर सीधे तौर पर जेडीयू नेता से जुड़े हैं .साथ ही यह भी मांग किया कि प्रचार के दौरान अधिक भीड़ पहुंचने पर पार्टियों पर मुकदमा दर्ज अगर होता है तो यह ठीक नहीं होगा. चुनाव के दौरान सोशल मीडिया पर गहरी नजर रखी जाए ताकि चुनाव में दुष्प्रचार और सांप्रदायिकता भड़काने से रोका जा सके.

जेडीयू ने दिए ये सुझाव

जेडीयू की तरफ से तीन मांगे रखी गई.पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी ने बताया कि चुनावी सभाओं में सीमित भीड़ को लेकर राजनीतिक पार्टियों में संशय है. जहां पर सभा होनी है वहां अगर ज्यादा भीड़ हो जाती है तो उसे कैसे रोका जाएगा, वहीं दूसरी मांग यह थी 80 साल से ज्यादा बुजुर्गों को बैलेट पेपर से चुनाव के लिए 12d का फॉर्म भरना है. जेडीयू ने मांग करते हुए कहा कि चुनाव आयोग के कर्मचारी खुद घर जाकर बुजुर्गों से ये फार्म भरवाए ताकि ज्यादा से ज्यादा मतदान हो सके.


Find Us on Facebook

Trending News