बिहार की राजनीति में महिला सशक्तिकरण! लालू की बिटिया को चुनौती देने मैदान में उतरीं दीपा, जानिए कौन है वो

बिहार की राजनीति में महिला सशक्तिकरण! लालू की बिटिया को चुनौती देने मैदान में उतरीं दीपा, जानिए कौन है वो

PATNA : बिहार की राजनीति में अब दूसरे दौर में प्रवेश कर रही है। बिहार के राजनेताओं के बेटे तो राजनीति में रंग जमा ही रहे थे, अब राजनेताओं की बहु-बेटियां भी खुल कर सामने आ गई हैं। पिछले कुछ दिनों से लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्य बिहार की राजनीति को लेकर लगातर ट्विटर पर बयानबाजी कर रही हैं। कभी वह नीतीश कुमार को इस्तीफा देने की मांग करती है, कभी पीएम नरेंद्र मोदी को महामारी के लिए जिम्मेदार बताती हैं। दो दिन पहले ही रोहिणी ने पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी का मुंह तोड़ने की बात कही थी। कुल मिलाकर सत्ता पक्ष से रोहिणी को चुनौती देने के लिए कोई महिला राजनेता नजर नहीं आ रहा था। 


लेकिन शुक्रवार को बिहार की राजनीति ने एक बार फिर करवट ली और पूर्व सीएम की बेटी के सामने एक और पूर्व सीएम के घर की महिला ने रोहिणी के सामने अपनी ग्रेंड इंट्री की। अंतर बस इतना है कि वह पूर्व सीएम की बेटी नहीं, बल्कि बहू है। यहां हम बात कर रहे हैं जीतन राम मांझी की, जिनकी बहू दीपा संतोष मांझी ने रोहिणी आचार्य पर बड़ा हमला किया है। दीपा मांझी ने रोहिणी के उस ट्विट का जवाब देते हुए कहा है कि जिसमें उन्होंने बिहार के बड़े अस्पताल में कोरोना महिला से दुष्कर्म की घटना का जिक्र करते हुए सरकार को घेरने की कोशिश की थी। अब रोहिणी के इस ट्विट पर दीपा ने लालू की बड़ी बहू एश्वर्या के साथ हुए सलूक का जिक्र किया है। मांझी की बहु ने लिखा है कि “बिहार में एक और बेटी इंसाफ़ माँग रही है जिसकी ज़िन्दगी लालू परिवार ने बर्बाद कर दी। क्या गलती थी ऐश्वर्या की जो तुम सब ने मिलकर उसे जलील किया,मारा पीटा? जब अपने घर शीशे के बने हों तो दूसरों के घर पर पत्थर नहीं मारा करतें।“

दीपा यहीं पर नहीं रूकीं, उन्होंने अपने दूसरे ट्विट में बिहार में ऑक्सीजन प्लांट नहीं लगाने के रोहिणी के सवाल पर भी करारा जवाब दिया है। दीपा मांझी ने लिखा है कि “15 साल में तहार अम्मा-पप्पा कौ गो प्लांट लगईलन है हो सिंगापुरिया जाली डाक्टर? चोरी-डकैती करके डाक्टर बनलू आउर दूसर के ज्ञान सिखा रहल बाडू,ठीक से रहा ना तो ठीक हो जईबू,ई बिहार हा बुझाईल।“


पिछले कुछ महीने से जिस तरह से रोहिणी बिहार के हर मुद्दे पर जिस तरह से प्रतिक्रिया दे रही थीं, उसके बाद दीपा मांझी का इस तरह करारा जबाव देने के बाद से अब एनडीए को बड़ा हथियार मिल गया है। माना जा रहा है कि जिस तरह से रोहिणी की बिहार की राजनीति में आने के कयास लगाए जा रहे है, उसी तरह दीपा संतोष मांझी भी परिवार की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ा सकती हैं। 


Find Us on Facebook

Trending News