आतंकी दाऊड के करीबियों जमीन सौदा करने के आरोपी महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक पर प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा

आतंकी दाऊड के करीबियों जमीन सौदा करने के आरोपी महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक पर प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा

मुम्बई. मनी लॉन्ड्रिंग और अंडरवर्ल्ड कनेक्शन मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने बुधवार सुबह सात बजे एनसीपी नेता व महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक के घर पर छापेमारी की. ईडी इस बड़ी कार्रवाई में करीब एक घंटे तक ईडी के अधिकारीयों ने नवाब मलिक से पूछताछ की. बाद उन्हें आगे की पूछताछ के लिए टीम उन्हें अपने साथ प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर ले गई. सूत्रों के मुताबिक, हवाला मामले में ईडी द्वारा जुटाए गए सबूतों में मलिक का नाम सबसे पहले आया था. 

नवाब मलिक पर कुख्यात आतंकी दाऊद इब्राहीम के करीबियों से जमीन का सौदा करने सहित मुम्बई बम धमाकों में उम्र कैद की सजा काट रहे शहा वली खान और हसीना पारकर के करीबी सलीम पटेल के साथ व्यवसायिक संबंध का आरोप है. महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और भाजपा नेता देंवेंद्र फडणवीस ने नवंबर, 2021 में नवाब मलिक पर ये कथित आरोप लगाए थे. 

वहीं प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को माफिया सरगना दाउद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को महाराष्ट्र की ठाणे जेल से गिरफ्तार किया था. ईडी ने दाउद और उसके सहयोगियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग केस दर्ज किया है. इस ममाले में भी नवाब मलिक पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा था. 

आर्यन खान ड्रग केस के बाद चर्चा में आए एनसीपी नेता व महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक उस समय भी आर्यन पर जबरन फंसने का आरोप लगाया था. वहीं खुद पर लगे आरोपों को लेकर उन्होंने कहा था कि उन्हें जानबूझकर बदनाम किया जा रहा है. जिस जमीन को दाऊद के करीबियों से सौदा करने की बात और मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया जा रहा है उस व्यावसायिक लेनदेन से उनका कोई नाता नहीं है. हालांकि अब नवाब को लेकर ईडी ने शिकंजा कस दिया है. 


Find Us on Facebook

Trending News