नवरात्र में तनावः मंदिर प्रांगण में अहले सुबह गोलीबारी, पुजारी की मौत, अन्य की हालत नाजुक, मॉब लिंचिंग में गई अपराधी की भी जान

नवरात्र में तनावः मंदिर प्रांगण में अहले सुबह गोलीबारी, पुजारी की मौत, अन्य की हालत नाजुक, मॉब लिंचिंग में गई अपराधी की भी जान

DARBHANGA: इस वक्त की बड़ी खबर दरभंगा जिले से सामने आई है, जहां कुछ मनचलों द्वारा शहर के सबसे प्राचीन मंदिर में से एक कंकाली मंदिर के पुजारी की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। पुजारी की हत्या की खबर इलाके में आग की तरह फैल गई और आक्रोशित लोगों ने हत्यारे को पकड़ लिया। लोगों ने अपराधी पर जमकर गुस्सा निकाला और मॉब लिंचिंग में अपराधी की भी मौत हो गई।

यह सनसनीखेज वारदात विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के रामबाग़ स्थित कंकाली मंदिर की बताई जा रही है। दरअसल मृतक पंडित के भतीजे और अपराधी के बीच दो दिन से मारपीट चल रही थी। इसके अलावा महाअष्टमी की शाम मंदिर प्रांगण में आरती हो रही थी, जिसको लेकर काफी भीड़ इकट्ठा थी। उसी दौरान कई सारे मनचले भी वहां मौजूद थे, जिनकी हरकतों से महिलाओं को परेशानी हो रही थी। इसका विरोध जब मंदिर के पुजारी ने किया तो मनचलों की टोली पुजारी से भिड़ गई और देख लेने की धमकी दी। इसके बाद आज, महानवमी के दिन, अहले सुबह 4 बजे चार की संख्या में अपराधी मंदिर में घुसे और गोलीबारी की। जिससे वहां सो रहे दोनों पुजारी गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें से एक पुजारी राजीव कुमार ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि दूसरे व्यक्ति का गंभीर स्थिति में अस्पताल में इलाज जारी है।

अपराधी वारदात को अंजाम देने के बाद पैदल ही भागे, तभी गोलीबारी का शोर सुनकर वहां पहुंचे लोगों ने एक अपराधी पुलकित को पकड़ लिया, जबकि अन्य तीन भागकर जान बचाने में सफल हो गए। जब लोगों को सूचना मिली की पुजारी राजीव कुमार ने दम तोड़ दिया है तो उनके गुस्से की सीमा ना रही। जिसके बाद भीड़ अपराधी पर टूट पड़ी और मॉब लिंचिंग में पुलकित की भी मौत हो गई। वारदात के पश्चात लोगों ने पुलिस को भी सूचना दी, मगर तबतक सबकुछ समाप्त हो चुका था। पुलिस की टीम मौका-ए-वारदात पर छानबीन और पूछताछ की है। इलाके में तनाव व्याप्त है और एहतियात के तौर पर पुलिस मंदिर के आसपास मौजूद है। 

Find Us on Facebook

Trending News