पहले स्कार्पियो बुक की, फिर थोड़ी दूर जाकर कनपटी पर हथियार सटाकर लूट ली गाड़ी

पहले स्कार्पियो बुक की, फिर थोड़ी दूर जाकर कनपटी पर हथियार सटाकर लूट ली गाड़ी

AURANGABAD :- औरंगाबाद पुलिस ने कड़ी कार्रवाई करते हुए लूट की स्कॉर्पियो के साथ तीन अपराधियों की गिरफ्तारी की है।  इन अपराधियों की पहचान कर ली गई है। इसके साथ ही अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुटी हुई है। पुलिस के अनुसार पकड़े गए लुटेरों ने पहले स्कॉर्पियो को किराए पर बुक किया और फिर सुनसान इलाके में जाकर पिस्टल की नोंक पर गाड़ी छिन ली। बाद में जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने घेराबंदी शुरू कर दी। जिसमें पुलिस ने सबसे पहले एक शातिर अपराधी रंजीत चौधरी की गिरफ्तारी रफीगंज कासमा रोड से की. जिसके निशानदेही पर अन्य पांच अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की गई. लेकिन छापेमारी के दौरान तीन अपराधी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए. गिरफ्तार अन्य दो अपराधियों की पहचान रफीगंज थाना के लभरी गांव निवासी आशीष कुमार और फेसरा निवासी अनुज कुमार यादव के रूप में की गई है.

जानकारी के अनुसार इनोवा पर सवार 6 अपराधियो ने सासाराम स्टेशन से एक स्कार्पियो हायर किया और  लुटेरे स्कार्पियो पर सवार होकर औरंगाबाद के लिए निकल गए. लेकिन आते-आते रात हो गई. लुटेरों ने स्कार्पियो को देव ले जाने के बजाय औरंगाबाद सिन्हा कालेज मोड़ से रफीगंज-भदवा औरंगाबाद रोड में मोड़ दिया. जैसे ही स्कार्पियो इस रोड में भोला बिगहा एवं बीबीपुर गांव के पास पहुंची कि लुटेरों ने शौचालय के नाम पर गाड़ी रोकी और फिर हथियार का भय दिखा चालक सह स्कार्पियो मालिक रोहतास जिले के शिवसागर थाना के मलवार गांव निवासी लीलवती देवी के पुत्र रजनीश कुमार एवं उसके साथ रहे एक अन्य को स्कार्पियो से उतार दिया। 


पुलिस ने दिखाई तत्परता, जिससे जल्द पकड़ाए लुटेरे

इसकी सूचना चालक सह मालिक रजनीश ने एक मुखिया को दी. मुखिया ने एसपी को सूचना दी. इसके बाद जदयू नेता तजम्मुल खान के साथ रफीगंज थाना के पुलिसकर्मियों ने स्कार्पियो का पीछा करना शुरू किया. उधर से कासमा थाना पुलिस पहुंच गई और लूट की स्कार्पियो लुटेरों के साथ पकड़ ली. इसी दौरान अंधेरे का फायदा उठाकर तीन लुटेरे भागने में सफल रहे. हालांकि गिरफ्तार किए गए सभी लुटेरों की पहचान कर ली गई है। 

1500 में बुक की थी गाड़ी

डीएसपी मनीष कुमार ने बताया कि बुधवार की सुबह रफीगंज से छह लुटेरे जब्त इनोवा पर सवार होकर सासाराम गए. दो अपराधी इनोवा गाड़ी से लौट आए और चार सासाराम स्टेशन के पास उतर गए. स्टेशन के बाहर खड़ी स्कार्पियो को चारों लुटेरों ने किराए पर लिया और यह कहा कि हमें देव औरंगाबाद जाना है. अपराधियों ने 1500 रुपये में देव के लिए गाड़ी बुक कर लिया. डीएसपी ने बताया कि  3 लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया गया है और 3 लुटेरे को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। अपराधियों ने अपने-अपने अपराध को स्वीकार कर लिया है.

Find Us on Facebook

Trending News