दसवीं की छात्रा से चार लड़कों ने किया गैंगरेप, पहले नशा खिलाकर बेहोश किया, फिर जबरन मांग में सिंदूर भरकर की दरिंदगी

दसवीं की छात्रा से चार लड़कों ने किया गैंगरेप, पहले नशा खिलाकर बेहोश किया, फिर जबरन मांग में सिंदूर भरकर की दरिंदगी

MUZAFFARPUR : जिले में ददसवीं की छात्रा से गैंगरेप (Molestation With Minor In Muzaffarpur) किए जाने का मामला सामने आया है। बताया गया कि लड़की घर में अकेली थी और उसके माता पिता शादी समारोह में गए थे, जिसका फायदा उठाते हुए चार लड़के घर में घुस गए और युवती का अपहरण कर लिया और उसे बेहोश कर पूरी रात गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। 

पूरी घटना रविवार रात की है. छात्रा के परिवार वाले पड़ोस में शादी समारोह में गए थे. इसी दौरान जब छात्रा घर में अकेली थी, तब लड़कों ने घर में घुसकर उसका अपहरण कर लिया. लड़की के घर वाले जब लौटे तो उन्हेंने बेटी को घर से गायब देखा और खोजबीन शुरू की. रात में लड़की का कुछ पता नहीं चला. दूसरे दिन अहले सुबह उसे एक घर से मुक्त कराया गया. छात्रा की हालत बहुत खराब थी. घटना के बाद परिजनों की शिकायत पर पॉक्सो एक्ट के तहत थाने में एफआईआर दर्ज हुआ है. पुलिस आरोपियों की तालाश में जुटी है।

पीड़िता की मां ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि आठ मई की शाम साढ़े सात बजे परिवार के लोग पड़ोस में शादी समारोह में गए थे. घर में पुत्री अकेली थी. इसी दौरान चारों लड़के उसके घर में घुस आए और बेटी को उठाकर ले गए आरोपियों में से एक ने जबरन उसकी मांग में सिंदूर डाल दिया. इसके बाद चारों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। परिजनों ने बताया कि जब उसे छुड़ाया गया तो तो बेटी बेहोश पड़ी थी। कपड़े फटे हुए थे, वहां से उठाकर घर लाए।


थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर संजय कुमार ने बताया कि मामले में पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है. नगर परिषद के एक मोहल्ले के दीपक कुमार और संजीत कुमार समेत दो अन्य लड़कों को अभियुक्त बनाया गया है. साथ ही पीड़ित लड़की के साथ मारपीट को लेकर दीपक के माता, पिता और बहन को भी नामजद किया गया है। . पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया है. जांच रिपोर्ट आने के बाद ही दुष्कर्म की पुष्टि होगी. फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी का निर्देश दिया गया है

तेजाब डालने की देता था धमकी

गैंगरेप के मामले में आरोपी दीपक कुमार को लेकर पीड़िता की मां ने बताया कि वह हमेशा मेरी बेटी पर बुरी नजर रखता था. अक्सर उससे बात करने की कोशिश करता था. इस काम में मेरे ही पड़ोस के लोग उसका साथ देते थे। यहां तक कि बेटी के स्कूल आने-जाने के दौरान भी छेड़खानी करता था. मोबाइल पर बातचीत करने के लिए दवाब बनाता था. छात्रा की मां ने आवेदन में लिखा है कि उनके पड़ोसी के यहां दीपक का आना-जाना था. उसकी बहू-बेटी के माध्यम से छात्रा पर बात करने के लिए दबाव बनाता था. विरोध करने पर तेजाब डालने की धमकी भी देता था


Find Us on Facebook

Trending News