भागलपुर : गेसिंग की गिरफ्त में फंसे गरीब, प्रशासन बना मूकदर्शक

भागलपुर : गेसिंग की गिरफ्त में फंसे गरीब, प्रशासन बना मूकदर्शक

BHAGALPUR : भागलपुर में इन दिनों गेसिंग का धंधा जोर-शोर से जारी है. अगर जल्द ही इस पर काबू नहीं पाया गया तो हजारों परिवारों की खुशहाली मातम में बदल जाएगी. दरअसल निम्न मध्यम वर्ग के लोगों को रातों-रात लखपति बनने का सपना दिखाकर उन्हें इस धंधे में फंसाया जाता है. धीरे धीरे लोग इसकी गिरफ्त में आ जाते हैं. 

गेसिंग के धंधेबाज मुख्य रूप से दिहाडी मजदूरी कर अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करने वाले लोग, ऑटो चालक, टोटो चालक, रिक्शा चालक को अपना शिकार बनाते हैं. दरअसल लॉटरी के तरह होने वाले गेसिंग के धंधे में गरीब लोगों को 12 रुपया के टिकट के जगह 100 रुपया दिए जाने का लोभ दिया जाता है. 

अभी गेसिंग का धंधा मुख्य रूप से भागलपुर शहरी क्षेत्र के तातारपुर थाना क्षेत्र, विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र, इसाकचक थाना क्षेत्र, तिलकामांझी थाना और बरारी थाना क्षेत्र के कई मोहल्लों में प्रमुखता से चल रहा है. आने वाले दिनों में अगर पुलिस प्रशासन इस पर लगाम नहीं कसती है तो यह गरीबों के जी का जंजाल बन सकता है.

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News