बिहार में जहरीली शराब के आगे सुशासन पस्त! बेतिया, गोपालगंज के बाद अब समस्तीपुर में सेना के जवान सहित 4 लोगों की मौत

बिहार में जहरीली शराब के आगे सुशासन पस्त! बेतिया, गोपालगंज के बाद अब समस्तीपुर में सेना के जवान सहित 4 लोगों की मौत

SAMASTIPUR: बिहार के लिए दीपावली का त्योहार शुभ नहीं रहा। इस त्योहार की खुशियों पर ग्रहण तब लग गया जब जहरीली शराब के सेवन से दो जिलों में एक दर्जन से अधिक लोगों की जान चली गई। पहले गोपालगंज, फिर बेतिया में एक जैसी हा घटनाओं से हड़कंप मच गया। अब खबर आई है समस्तीपुर से, जहां 4 लोगों की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई है, वहीं 6 लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

मृतकों में BSF और सेना का जवान भी शामिल

मामला जिले के पटोरी प्रखंड के रुपौली पंचायत का है, जहां जहरीली शराब पीने से एक साथ चार लोगों की मौत होने के साथ ही आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए है। बीमार लोगों को इलाज के लिए अलग-अलग जगहों पर ले जाया गया है। मृतकों में एक BSF का और एक सेना का जवान भी शामिल है। दोनों छुट्टी में घर आये हुए थे। 

परिजनों ने किया इनकार, पोस्टमार्टम ने खोला राज

इस मामले में परिजन शराब पीने की बात से इंकार कर रहे हैं। जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शराब पीने की पुष्टि की गई है। सूत्रों के अनुसार इन लोगों ने शुक्रवार की देर शाम एक ही स्थान से खरीदकर शराब पी थी। मरने वालों में चकसीमा निवासी सुरेंद्र राय का पुत्र थल सेना का जवान मोहन कुमार (27), दीगल चकसीमा का बीएसएफ एसआई विनय कुमार सिंह (53), संग्रामपुर निवासी विश्वनाथ चौधरी के पुत्र श्याम नंदन चौधरी (50) तथा रुपौली निवासी महेश्वर राय के पुत्र वीरचंद्र राय (35) के नाम शामिल हैं।

शुक्रवार शाम से ही बिगड़ने लगी थी सबकी हालत

शुक्रवार शाम रुपौली में लोगों के बीमार पड़ने और मरने का सिलसिला शुरू हुआ। एक-एक कर करीब एक दर्जन लोगों की तबीयत बिगड़ने से गांव में हड़कंप मच गया। इस दौरान कोई पेट दर्द तो कोई आंखों की रौशनी कम होने की बात करने लगा। इसके बाद लगातार मौत का सिलसिला चलता रहा। बीमार लोगों में दीगल चकसीमा निवासी बेंगा राय, अभिलाख राय, सुमन कुमार, दीपक कुमार, कुंदन कुमार आदि के नाम शामिल हैं। एक साथ चार लोगों की मौत और आधा दर्जन के गंभीर रूप से बीमार पड़ने के बाद गांव में हडकंप मच गया है वहीं शराब तस्करी को लेकर भी लोगों में आक्रोश व्याप्त है। 

सेना के जवान का शव पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाया गया है। इस दौरान परिजन शराब पीने की बात से लगातार इंकार कर रहे हैं वहीं पोस्टमार्टम कर्मी नागेंद्र मल्लिक अपनी बात पर अड़ा है की शराब पीने से ही मौत हुई है। बहरहाल घटनास्थल के लिए जिला अधिकारी, एसपी पूरे दलबल के साथ मामले की जांच करने पहुंच गए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News