आईटीआई छात्रों के लिए खुशखबरी, बिना परीक्षा दिए ही हो जाएंगे प्रमोट, इस कारण लिया गया फैसला

आईटीआई छात्रों के लिए खुशखबरी, बिना परीक्षा दिए ही हो जाएंगे प्रमोट, इस कारण लिया गया फैसला

पटना. बिहार के पौने दो लाख आईटीआई छात्रों के लिए राहत की खबर है. कोरोना के खतरे को देखते हुए औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) के छात्रों को बिना परीक्षा के ही सीधे दूसरे वर्ष में प्रमोट कर दिया जाएगा. प्रशिक्षण महानिदेशालय भारत सरकार ने कोविड संक्रमण के बढ़ते खतरे के मद्देनजर यह निर्णय लिया है. डीजीटी की ओर से इस बाबत आदेश भी जारी कर दिया गया है. 

बिहार राज्य प्राइवेट आईटीआई प्रगतिशील संघ के अनुसार कोविड के कारण दो वर्षीय पढ़ाई कर रहे छात्रों को बिना परीक्षा के ही प्रमोट करने की मंजूरी दी गई है. इससे बिहार के भी छात्र लाभान्वित होंगे. छात्रों की ओर से पहले भी मांग की गई थी कि कोविड के कारण उनकी पढाई बाधित रही है. इस बार भी कोविड का खतरा मंडराने लगा है. इसे देखते हुए उन्हें बिना परीक्षा के ही प्रमोट करने की मंजूरी दी गई है. 

इसके तहत प्रथम वर्ष में पढ़ रहे छात्रों को ट्रेड थ्योरी, वर्कशॉप कैलकुलेशन तथा एम्प्लोयाबिलिटी स्किल की आगामी कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट परीक्षा नहीं देनी होगी. इतना ही सीबीटी की आगामी परीक्षा के लिए सभी छात्रों द्वारा जमा किए गए परीक्षा फीस को दूसरे वर्ष की परीक्षा फीस में समायोजित किया जाएगा. 

सत्र 2020-22 के सभी प्रथम वर्ष के छात्र जो हाल में ही संपन्न हुई अखिल भारतीय व्यावसायिक परीक्षा के प्रैक्टिकल तथा इंजीनियरिंग ड्राइंग की परीक्षा में पास हैं, उन्हें फर्स्ट ईयर में पास घोषित कर सीधे सेकंड ईयर में प्रमोट कर दिया गया है. प्रमोट छात्रों के सेकंड ईयर की कक्षाएं तीन जनवरी 2022 से शुरू होगी.


Find Us on Facebook

Trending News