15 और 16 मार्च को हड़ताल पर रहेंगे 10 लाख बैंककर्मी, अधिकारियों को सौंपा ज्ञापन

15 और 16 मार्च को हड़ताल पर रहेंगे 10 लाख बैंककर्मी, अधिकारियों को सौंपा ज्ञापन

MUZAFFARPUR : मुज़फ़्फ़रपुर शहर के कलमबाग चौक के समीप स्थित उत्तर ग्रामीण बैंक प्रधान कार्यालय में सरकार के द्वारा निजीकरण के विरोध में हड़ताल पर जाने का शुक्रवार को बैठक कर निर्णय लिया गया. इस मौके पर बैंक कर्मियों ने बताया कि UFBU के आह्वान पर भारत सरकार के निजीकरण फैसले के खिलाफ देश भर के दस लाख बैंककर्मी 15 एवं 16 मार्च को दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर रहेंगे. 

ज्वाईन्ट फोरम ऑफ आर आर बी यूनियन्स के निर्देश पर देशभर के ग्रामीण बैंककर्मी 11 वां द्विपक्षीय समझौते का अक्षरशः शीघ्र लागू करने एवं भारत सरकार का बैंकों के निजीकरण के फैसले को वापस लेने के लिए आज सभी क्षेत्रीय कार्यालय सहित प्रधान कार्यालय पर प्रदर्शन कर बैंक के चेयरमैन एवं क्षेत्रीय प्रबन्धक को माँगों से सम्बन्धित नारेबाजी करते हुए ज्ञापन सौंपा. 

भारत सरकार का सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का निजीकरण करने के फैसला को वापस लेने तथा ग्रामीण बैंकों मे अविलम्ब 11 द्विपक्षीय समझौता लागू करने की माँग को लेकर देशभर के ग्रामीण बैंक स्टाफ 15 एवं 16 मार्च 2021 के राष्ट्रव्यापी हड़ताल में भाग लेंगे तथा हड़ताल को पूर्ण सफल करेंगे. शिष्टमंडल मे अरुण कुमार सिंह, प्रदीप कुमार मिश्र, एम के शर्मा, अशोक कुमार चौधरी, सुरेन्द्र नारायण मिश्र, शंभू शरण सिंह, विरेन्द्र, संतोष कुमार, विमल कुमार सिन्हा एवं अरविन्द कुमार थे. 

मुजफ्फरपुर से अरविन्द अकेला की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News