लगातार दूसरी बार राज्यसभा के उपसभापति बने हरिवंश, राजद के मनोज झा को दी शिकस्त

लगातार दूसरी बार राज्यसभा के उपसभापति बने  हरिवंश, राजद के मनोज झा को दी शिकस्त

Desk : एनडीए प्रत्याशी तौर पर हरिवंश नारायण सिंह लगातार दूसरी बार राज्यसभा में उपसभापति चुने गए हैं।इस पद के लिए उनका मुकाबला विपक्ष के उम्मीदवार मनोज झा से था। ध्वनि मत से हुए मतदान में हरिवंश ने यह जीत हासिल की।जेडीयू की तरफ से राज्यसभा सदस्य हरिवंश और आरजेडी नेता मनोज झा के बीच हुए इस मुकाबले को आगामीबिहार चुनाव से पहले दिलचस्पी से देखा जा रहा है।

जगत प्रकाश नड्डा की ओर से हरिवंश को उपसभापति बनाने का प्रस्ताव पेश किया तो विपक्ष की ओर से गुलाम नबी आजाद ने मनोज झा के नाम का प्रस्ताव रखा गया था।

सामाजिक सरोकार की पत्रकारिता से राजनीति में आए हरिवंश जयप्रकाश नारायण के आदर्शों से प्रेरित हैं। उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के सिताब दियारा गांव में 30 जून, 1956 को जन्मे हरिवंश को जयप्रकाश नारायण ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया।

हरिवंश राजनीति में हरिवंश ने वर्ष 1990-91 के कुछ महीनों तक तत्कालीन प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के अतिरिक्त सूचना सलाहकार (संयुक्त सचिव) के रूप में प्रधानमंत्री कार्यालय में भी काम किया। ढाई दशक से अधिक समय तक 'प्रभात खबर के प्रधान संपादक रहे हरिवंश को नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड ने राज्यसभा में भेजा। उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार का बेहद करीबी माना जाता है।


Find Us on Facebook

Trending News