हवस की आग में प्रेमिका ने प्रेमी के साथ मिलकर कर दी पति की बेरहमी से हत्या, फिर जीजा ने ऐसा किया की 15 महीने बाद खुला राज

हवस की आग में प्रेमिका ने प्रेमी के साथ मिलकर कर दी पति की बेरहमी से हत्या, फिर जीजा ने ऐसा किया की 15 महीने बाद खुला राज

डेस्क...राजस्थान के धौलपुर जिले में घटी घटना ने मानवीय रिश्तों को तार तार कर दिया है.जहां हवस की आग में पत्नी इतना नीचे गिर गयी की पति की जान ही ले ली. इस जघन्य घटना में आरोपी महिला का साथ उसके प्रेमी और रिश्ते के बहनोई ने दिया. दिसम्बर 2019 में घटी इस बेरहम घटना के खुलासे के बाद पुरे इलाके में यही चर्चा है की आखिर विश्वाश किस पर किया जाए. 

राजस्थान के धौलपुर जिले में दिसम्बर 2019 में घटी घटना का अस्थानिये पुलिस ने खुलासा कर दिया है घटना के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी देते हुए धौल पूर के पुलिस अधीक्षक केशर सिंह शेखावत ने बताया है की बाड़ी थाना क्षेत्र थाना इलाके के गांव रुंध का पुरा की रहने वाली फूलन देवी ने 8 दिसम्बर 2019 को अपने पति का प्रेमी और जीजा के साथ मिलकर गला घोट दिया फिर सच को छुपाने के लिये बड़ी चालाकी से गांव रूपसपुर ले आये जहां बनवारी के खेत मे गड्ढा खोद कर तीनो ने मिलकर लाश को दफन कर दिया. 

जानकारी के मुताबिक 9 दिसम्बर 2019 को करौली जिले के कोतवाली थाना पुलिस के समक्ष अपने 45 वर्षीय पति कमल कुशवाह की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. रिपोर्ट में बताया कि उसका पति गंगापुर दवा लेने जा रहा था लेकिन कोई परिचित रास्ते में मिला और पैसों का झांसा देकर बहला फुसलाकर ले गया. लेकिन जब काफी लंबे समय बाद भी सुराग नहीं लगा तो फूलन देवी के बेटे जीतू ने बाड़ी सदर थाना पुलिस में अपने पिता के अपहरण होने का मामला दर्ज कराया. जीतू ने अपनी मां, मौसा कप्तान और बनवारी पंडित के खिलाफ नामजद मामला लिखवाया. जांच में पता चला कि फूलन देवी के संबंध बनवारी से हैं जो कि पशु चिकित्सक है और रूपसपुर में रहता है. बनवारी का फूलन देवी के यहां आना जाना भी लगा रहता था. जब इन दोनों के सम्बन्धों की जानकारी कमल और जीतू को हुई तो वो विरोध करने लगे. इसके बाद फूलन देवी ने उसके और जीजा के साथ पति की मौत की साजिश रच डाली. पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है.


Find Us on Facebook

Trending News