निगरानी के हत्थे चढ़ा स्वास्थ्य विभाग का घूसखोर लिपिक, नर्स ने की थी पैसे मांगने की शिकायत

निगरानी के हत्थे चढ़ा स्वास्थ्य विभाग का घूसखोर लिपिक, नर्स ने की थी पैसे मांगने की शिकायत

NALANDA : निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने आज सरमेरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के कार्यालय में कार्रवाई कर प्रधान लिपिक संजय कुमार को 20 हजार रुपया घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. लिपिक एक नर्स से रिश्वत ले रहा था. इसी दौरान वह निगरानी के हत्थे चढ़ गया. निगरानी की कार्रवाई से अस्पताल कर्मियों में हड़कंप मच गया. 

उधर निगरानी की टीम गिरफ्तार लिपिक को अपने साथ लेकर पटना निकल गई. निगरानी डीएसपी विमलेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि अस्थावां के महम्मदपुर गांव निवासी राजनंदन प्रसाद की पत्नी एएनएम निशा कुमारी ने क्लर्क द्वारा घूस मांगे जाने की शिकायत दर्ज कराई थी. प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र सदहा से अस्थावां के उपकेंद्र मालती में तबादला होने के बाद, लिपिक अंतिम वेतन प्रमाण-पत्र निर्गत करने के लिए 20 हजार रुपया रिश्वत मांग कर रहा था. शिकायत के सत्यापन में रिश्वत मांगने का प्रमाण मिला. जिसके बाद धावादल का गठन कर क्लर्क को ट्रैप किया गया. गिरफ्तार क्लर्क को निगरानी कोर्ट में पेश किया जाएगा. 

कई दिनों से चक्कर काट रही थी नर्स 

ग्रामीणों की मानें तो अंतिम वेतन प्रमाण-पत्र निर्गत कराने के लिए नर्स कई दिनों से कार्यालय का चक्कर काट रही थीं. लिपिक बिना घूस के प्रमाण-पत्र निर्गत करने को तैयार नहीं था. नर्स ने इसकी चर्चा सहकर्मी और ग्रामीणों से किया था. गुरुवार को भी नर्स पूरे दिन अस्पताल कार्यालय का चक्कर लगाती रही. मगर उनका काम नहीं किया गया.

नालंदा से राज की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News