औरंगाबाद शहर के नजदीक पहुंचा हाथियों का झुण्ड, अबतक तीन लोगों को किया जख्मी, रेस्क्यू में जुटी वन विभाग की टीम

औरंगाबाद शहर के नजदीक पहुंचा हाथियों का झुण्ड, अबतक तीन लोगों को किया जख्मी, रेस्क्यू में जुटी वन विभाग की टीम

AURANGABAD : जिले में पिछले तीन दिनों से हाथी के एक झुंड ने किसानों एवं ग्रामीणों को परेशान कर रखा है। हाथी के इस झुंड में कुल 11 हाथी है। मंगलवार को हाथी का झुंड मदनपुर से होते हुए औरंगाबाद शहर के अमर बिगहा के बिलकुल पास पहुंच गया। जिससे आस पास के किसान काफी दहशत में हैं। तीन दिनों में हाथी के झुंड ने तीन लोगों को अपना निशाना बनाया है और सभी लोग घायल होकर इलाजरत हैं।


घायलों ने बताया कि हाथियों का झुंड गया के जंगलों से भटकर जंगल के रास्ते होते हुए दो दिन पूर्व मदनपुर पहुंचा और किसानों की खेतों में जमकर उत्पात मचाया।हाथियों का झुंड सबसे पहले मदनपुर के पिछूलिया गांव पहुंचा और किसानों की फसलों को बर्बाद किया। किसानों ने हाथियों को भगाने का प्रयास किया। लेकिन झुंड के हाथियों ने सबों को खदेड़ दिया। हाथियों के आक्रमकता को देख किसान दहशत में आ गए।

इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। जिसके बाद विभाग की टीम ने हाथियों को भगाने का काफी प्रयास किया। लेकिन सफलता नही मिल सकी। हाथियों का झुंड पिछुलिया को पार करते हुए खेतों के रास्ते मदनपुर के ही कानीडीह पहुंचा और यहां भी खेत की फसलों को नुकसान पहुंचाया। तीसरे दिन मंगलवार को हाथी औरंगाबाद शहर के अमर बिगहा गांव पहुंचा।

औरंगाबाद के डीएफओ तेजस जायसवाल ने बताया कि पिछले तीन दिनों से हाथी का एक समूह गया के जंगलों से भटकर औरंगाबाद आ गया है और उन्हे नियंत्रित करने के लिए विभाग की टीम लगी हुई है। उन्हे जंगल के रास्ते ही भगाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने सभी ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा कि रात्रि के समय सभी ग्रामीण अपने अपने घरों के आगे मशाल जलाकर रखें। ताकि हाथी का झुंड खेत से होकर गांव में प्रवेश न कर सके। उन्होंने किसानों से यह भी अपील की कि कभी भी शौच के लिए अकेले अंधेरे में न निकले। ताकि हाथी क्षति न पहुंचा सके। डीएफओ ने बताया कि हाथियों के द्वारा फसल नुकसान का आंकलन किया जा रहा है।

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News