बिजली संकट को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री के घर पर हाई लेवल की मीटिंग, पावर प्लांट्स तक कोयला पहुंचाने पर जोर

बिजली संकट को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री के घर पर हाई लेवल की मीटिंग, पावर प्लांट्स तक कोयला पहुंचाने पर जोर

Desk. देश के कई राज्यों में बिजली संकट देखा जा रहा है। इससे लगातार बजिली सप्लाई बाधित हो रही है। वहीं बढ़ते गर्मी के बीच बजली कट की समस्या से लोग काफी परेशान है। इस बीच कोल क्राइसिस को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के घर पर बैठक चल रही है। इस मीटिंग में रेल मंत्री अश्विणी वैष्णव, ऊर्जा मंत्री आरके सिंह और कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी शामिल हैं। पिछले दिनों बिजली संकट के बाद कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने कोल क्राइसिस का मुद्दा उठाया था।

गर्मी के दिनों में बिजली की मांग बढ़ जाती है। ऐसे में बिजली प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए ज्यादा कोयला की जरूरत होती है। ऐसे में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, आंध्र प्रदेश, गुजरात, बिहार, झारखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तराखंड में बिजली संकट देखे जा रहे हैं। इन प्रदेशों में गर्मी भी लगातार बढ़ रही है।

देश में बिजली उत्पादन में 70% कोयले का उपयोग

भारत करीब 200 गीगावॉट बिजली, यानी करीब 70% बिजली का उत्पादन कोयले से चलने वाले प्लांट्स से करता है। देश में कोयले से चलने वाले 150 बिजली के प्लांट्स है। पिछले दिनों बिजली संकट गहराने पर बिजली प्लांट्स तक कोयला ले जाने वाली ट्रेनों को रास्ता देने के लिए रेलवे ने ट्रेनों के 670 फेरे रद्द कर दिए थे।

Find Us on Facebook

Trending News