चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना चौथे दिन भी जारी, अविलम्ब नियुक्ति पत्र देने की मांग

चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना चौथे दिन भी जारी, अविलम्ब नियुक्ति पत्र देने की मांग

DHANBAD : बुनियादी प्रशिक्षण से वंचित नव चयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना गुरुवार को भी लगातार चौथे दिन जारी रहा. आज धनबाद जिला कांग्रेस कमिटी के जिला अध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, जिला कार्यकारी अध्यक्ष रविंद्र वर्मा ने धरनार्थियों से मिलकर उन्हें आश्वस्त कराया कि वर्तमान सरकार उनके प्रति संवेदनशील है. मौके पर कांग्रेस नेता अनवर शमीम भी मौजूद थे. ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा वित्तमंत्री एवं कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष को मामले से अवगत कराएंगे. किसी भी सरकार में वित्त मंत्री सरकार की रीढ़ के समान होता है. उन्होंने कहा पिछले तीन वर्ष पूर्व ही बहाली निकाल चुके अभ्यर्थियों को बुनियादी प्रशिक्षण से जोड़ने एवं उन्हें नियुक्ति पत्र देने मे अब बिल्कुल भी विलंब नही किया जाना चाहिए.  

पूर्व की सरकार की नाकामी का परिणाम

जिला कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा चयनित होमगार्ड अभ्यर्थी, सहायक पुलिस कर्मी या फिर पारा शिक्षक इन सब ने संघर्ष किया और करते आ रहे है. पूर्व की सरकार ने इनके प्रति सहानभूति नहीं दिखाई. आज परिणाम है कि इन्हें अपनी जायज मांगो के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. राज्य में कांग्रेस जेएमएम की सरकार है. यह सरकार सभी के प्रति संवेदनशील होकर सोचती और विचार करती है. पारा शिक्षकों की समस्याओं पर यह सरकार ने संज्ञान लिया. सहायक पुलिसकर्मियों को भी आश्वासन दिया गया है. निश्चित तौर पर होमगार्ड के समस्याओं का भी निराकरण किया जाएगा. 

गौरतलब है कि पिछले तीन वर्षों से सभी चयनित 735 अभ्यर्थी बुनियादी प्रशिक्षण पाने के लिए वेट एंड वॉच की स्थिति में है. होमगार्ड रांची मुख्यालय, धनबाद एसएसपी एवं उपायुक्त के द्वारा विगत तीन वर्षों से प्रशिक्षण में भेजने के नाम पर इन्हें केवल आश्वासन ही मिलता आ रहा है. प्रशिक्षण के लिए लिस्ट भी जारी हो चुकी है. विभाग जांच का हवाला दे रहा है. सभी अभ्यर्थियों का एसबीआई हीरापुर ब्रांच में पुलिस सर्विस पैकेज अकॉउंट (पीपीएस) भी खोल दिया गया है. अकॉउंट खोलने में सभी से 500 रु बैंक के द्वारा जमा भी लिया गया. अभ्यर्थियों का कहना है कि अब अकॉउंट से राशि भी काटी जा रही है. बहाली निकालने के बावजूद तीन वर्षों से खाली बैठे अभ्यर्थियों की स्थिति दयनीय हो चुकी है. सरकार और प्रशासन इस धरने के बाद भी मांगों पर विचार नही करती है तो आगामी दिनों में इसी धरना स्थल पर आमरण अनशन प्रारंभ करने के लिए विवश होना पड़ेगा.  

नवजात के साथ धरने पर डटी है महिला अभ्यर्थी चांदनी

नवचयनित होमगार्ड अभ्यर्थियों का धरना पिछले 28 सितम्बर से ही जारी है. धरने में पुरुष अभ्यर्थियों के साथ महिला अभ्यर्थी भी शामिल है. चान्दनी कुमारी नामक महिला अभ्यर्थी लगातार चार दिनों से अपनी नवजात बच्ची को लेकर धरना दे रही है. 

धनबाद से अजय उपाध्याय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News