गाँव के लोग खुद योजनाओं को तैयार करने लगेंगे तो भारत को विश्व गुरु बनते देर नही लगेगी : ई.सच्चिदानंद राय

गाँव के लोग खुद योजनाओं को तैयार करने लगेंगे तो भारत को विश्व गुरु बनते देर नही लगेगी : ई.सच्चिदानंद राय

CHHAPRA : देश का विकास और भारत को विश्वगुरु बनाने की योजना गाँव और पंचायतो से ही शुरू होती है। 130 करोड़ भारतीयों का हमारे गाँव और पंचायतें होती है। गाँव के लोग जब अपनी योजना स्वयं बनाने और उसका क्रियान्वयन करने लगेंगे तो भारत को फिर से विश्व गुरु बनते देर नही लगेगी। ये बातें सारण एमएलसी निकाय चुनाव के निर्दलीय प्रत्याशी ई.सचिदानन्द राय ने जनप्रतिनिधियों से जनसम्पर्क के दौरान कही। 

उन्होंने कहा कि मैंने 6 वर्षो में  जनप्रतिनिधियों के मान सम्मान और उनके हक के लिये आवाज उठाई और उसका बेहतर नतीजा भी सामने आया। जब पंचायत स्तर के जनप्रितिनिधि मजबूत होंगे। तब गाँव में ही आपसी विवादों का निपटारा होगा। 2016 से पहले पंचायत सदस्यों को जीतने के बाद भी उन्हें पंचायती कार्यो से वंचित रखा जाता था। जिसके बाद मैंने उनके अधिकारों और मान सम्मान की लड़ाई लड़ी और फिर सभी वार्ड सदस्यों की भागीदारी बढ़ी है। पंचायती राज कार्यकाल खत्म होने के बाद जब उनका अधिकार प्रखण्ड और जिला के अधिकारियों को देने की चर्चा चल रही थी। तब मैंने इसका विरोध करते हुए परामर्शी समिति के गठन में सभी जनप्रतिनिधियों को इसका अध्यक्ष बनाने में अहम भूमिका निभाई। 

उन्होंने कहा की मैं पंचायती राज व्यवस्थाओं को धरातल पर उतारने के लिये कृत संकल्पित हूँ, कुछ काम हुआ है और बहुत काम बाकी है। पंचायती राज की व्यवस्थाओं को धरातल पर उतारना ही मेरी प्राथमिकता है, और मैं इसी उद्देश्य से जनप्रतिनिधियों के मान सम्मान के लिये मैदान में हूँ। जब गांव के मुहल्ले के जनप्रतिनिधि अपने गाँव मुहल्ले के विकास की योजनाओं को खुद तैयार करेंगे और क्रियान्वयन करेंगे। तभी पंचायत के साथ ही देश विकसित होगा और विश्वगुरु बनेगा।

बताते चलें की आज सच्चिदानंद राय ने दिघवारा प्रखण्ड के 9 पंचायत के सभी सम्मानित जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। जिसमें झौवां, हराजी, रामपुर आमी, मानुपुर, बस्ती जलाल, सितलपुर, बरुआ, त्रिलोकचक, कुरैया के जनप्रतिनिधि शामिल थे। इसमें सभी जनप्रतिनिधियों ने एक स्वर में उन्हें समर्थन देने की बात कही और इस चुनाव में भारी बहुमत से जीत दर्ज करने का दावा किया। वहीँ सच्चिदानंद राय ने अमनौर प्रखण्ड के परसा कटसा और रैपुरा पंचायतों के जनप्रतिनिधिगण से उन्होंने मुलाकात की। साथ ही परसा प्रखंड के भेल्दी, पञ्चरुखी, पचलख, शोभेपुर, सगुनी, चांदपुरा पंचायत में गए और जनप्रतिनिधियों से समर्थन देने की अपील की।


Find Us on Facebook

Trending News