बगहा में आदमखोर बाघ ने झोपड़ी में घुसकर बच्ची को मार डाला, जबड़े में दबाकर ले गया खेत, 9 महीने में सात को बनाया शिकार

बगहा में आदमखोर बाघ ने झोपड़ी में घुसकर बच्ची को मार डाला, जबड़े में दबाकर ले गया खेत, 9 महीने में सात को बनाया शिकार

बगहा. गोबर्द्धना थाना के सिंगाही गांव में बुधवार की देर रात एक झोपड़ी में घुसकर आदमखोर बाघ ने 12 की बच्ची को अपना शिकार बना लिया। झोपड़ी से खींचकर बच्ची को गन्ने के खेत में ले गया। बच्ची का शव गन्ने के खेत से परिजनों ने बाहर निकाला। मृतका की पहचान सिंगाही गांव निवासी रमाकांत मांझी की पुत्री बगड़ी देवी के रूप में  हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए बगहा अनुमंडल अस्पताल भेज दिया है।

 बाघ ने 9 महीने में ये 7वां शिकार किया है। इसमें 6 लोगों की मौत हो गई है। वन विभाग की 400 लोगों की टीम 25 दिनों से बाघ को पकड़ने में लगी है। हाल ही आमदखोर बाघ ने एक व्यक्ति को अपना शिकार बनाया था। वहीं इस घटना से लोगों में दहशत का माहौल है। वहीं वन विभाग की रेस्क्यू टीम बाघ को खोजने में जुटी हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार बच्ची खाट पर सो रही थी। तभी बाघ मच्छरदानी फाड़ते हुए बच्ची को ही उठाकर ले गया। पहले तो बाघ ने उसे उठाया फिर छोड़ दिया। थोड़ी देर बाद फिर आया और उठाकर ले गया। वो चिल्ला रही थी। बचाने की गुहार लगा रही थी। इसके बाद गांव के लोग इकट्‌ठा हुए। वन विभाग के लोग भी आ गए थे। तेज बारिश की वजह से शव को ढूंढने में परेशानी हुई। हम खेतों में गए तो बाघ डरकर शव छोड़कर भाग निकला। बच्ची के गर्दन और हाथ पर घाव के निशान थे।


Find Us on Facebook

Trending News