मोतिहारी में दबंगई दिखाने के लिए युवक ने की फायरिंग, दो को लगी गोली, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

मोतिहारी में दबंगई दिखाने के लिए युवक ने की फायरिंग, दो को लगी गोली, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

MOTIHARI : दबंगई दिखाने के लिए सरेआम फायरिंग करना अब फैशन हो गया है। मोहल्ले में दबंगता दिखाने के लिए एक युवक ने दिनदहाड़े गोलीबारी किया है। गोलीबारी में दो युवकों को गोली लगी है। जिसमें एक का इलाज मोतिहारी के सदर अस्पताल में किया जा रहा है। जबकि दूसरा निजी अस्पताल में भर्ती है। दोनों युवकों को गोली पैर में लगी है। घटना मोतिहारी नगर के गौरीशंकर मिडिल स्कूल के बगल में ठाकुरवाडी मुहल्ला में घटित हुई है। घटना की पूरी तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो गयी है। घटना के बाद नगर थाना पुलिस ने युवक को नशे की हालत में घर से गिरफ्तार किया है। 


साथ ही घटना में प्रयुक्त लाईसेंसी रिवाल्वर को बरामद किया है। बताया जाता है कि पिछले कुछ दिनों से राजन नामक युवक पडोसियों पर दबंगता दिखाने के लिए मारपीट और गोली मारने की धमकी दे रहा था। जिसके खिलाफ पीड़ित व्यवसायी परिवार ने 18 सितम्बर को नगर थाना पुलिस को आवेदन दिया। लेकिन पुलिस ने नगर निगम चुनाव में व्यस्तता को बताते हुए कोई कार्रवाई नहीं किया। इस बीच 23 सितम्बर को व्यवसायी परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट किया। फिर भी पुलिस व्यस्त रही। इस बीच व्यवसायी के परिवार में पुरुष सदस्यों ने घर छोड दूसरे जगह शरण ले लिया। आज दिन में व्यवसायी के दुकान के कर्मी ने कल से शुरु होने वाले दशहरा पूजा के खरीददारी के लिए रुपये लेकर घर आया। जहां पडोसी युवक राजन ने दिनदहाडे घर से रिवाल्वर निकाल कर उसके सिर पर लगा दिया। इसके बाद युवकों मे नोक झोक होने लगा और रिवाल्वर से गोली निकल गयी। संयोग अच्छा रहा कि रिवाल्वर के नाल नीचे रहे और पैर में ही गोली लगी। 

गोली मोतिहारी नग के होनहार क्रिकेट खिलाडी विसाल कुमार के पैर में लगी,जिसका इलाज मोतिहारी के सदर अस्पताल में किया जा रहा है। वहीं दूसरी गोली राजन के ही किसी मित्र को लगी है, जिसका इलाज निजी अस्पताल में किया जा रहा है। गोलीबारी की घटना के नगर थाना पुलिस जगी और आनन फानन में पुलिस ने राजन को घर से गिरफ्तार किया और रिवाल्वर को बरामद किया है। इधर इलाज करा रहे युवक विशाल कुमार ने बताया कि मुहल्ले में दबंगता दिखाने के लिए लोगों को राजन परेशान करता है। बडे पापा के दुकान का स्टॉप रुपये लेकर आया। जिसे राजन ने क्यों आया कह कर धमकाने लगा और गोलिया चलाने लगा। किसी से उसका कोई विवाद नहीं है। फिर भी दबंगता जताने के लिए ऐसा कर रहा है। 

वहीं घायल विशाल के भाई अर्जून कुमार ने बताया कि राजन लोगों को परेशान कर रहा था। इसकी लिखित सूचना नगर थाना को 18 सितम्बर को दिया गया। लेकिन पुलिस व्यस्तता की बात कह जांच नहीं किया फिर 23 जुलाई को राजन और उसके साथियों ने उसके और मां के साथ मारपीट किया। जिसका भी आवेदन नगर थाना पुलिस को दिया। फिर भी जांच नहीं हो सकी और आज राजन ने गोली मार दिया है। 

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News