पटना में सगे भाईयों ने शूटर से करायी बड़े भाई की हत्या, पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

पटना में सगे भाईयों ने शूटर से करायी बड़े भाई की हत्या, पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

PATNA : पटना से सटे बिहटा में चंद रुपयों की खातिर दो भाइयों ने मिलकर अपने बड़े भाई की हत्या करा दी। इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने हत्या के आरोप में दो सगे भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने दोनों भाई के साथ एक शूटर को भी गिरफ्तार किया है। जिसने पैसा लेकर इस घटना को अंजाम दिया था। तीनों गिरफ्तार अपराधी अदलीपुर के सौरव कुमार उर्फ राहुल कुमार और मोहम्मद अफरोज अंसारी, मोहम्मद फिरदोस अंसारी दोनों मुनीर कॉलोनी लाल मियां की दरगाह फुलवारी शरीफ के रहने वाले हैं। तीनों अपराधियों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। 

पूछताछ के बाद तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। वही चौथा फरार अपराधी रवि सिंह की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। बता दें कि एक महीना पूर्व फुलवारी शरीफ के मुनीर कॉलोनी निवासी फिरोज अंसारी की हत्या चाकुओं से गोदकर कर दी गई थी। पुलिस के छानबीन में यह बात सामने आई की फिरोज अंसारी के छोटे भाई अफरोज अंसारी और मोहम्मद फिरदोस अंसारी ने मिलकर कुछ रुपयों की खातिर अपने बड़े भाई फिरोज अंसारी की हत्या सुपारी किलर से करा दिया। दानापुर सहायक पुलिस अधीक्षक सैयद इमरान मसूद ने बताया कि नेउरा ओपी इंचार्ज के नेतृत्व में गठित टीम बड़ी सफलता प्राप्त की है। टीम ने कुछ ही दिन पूर्व फ़िरोज़ अंसारी की हुई हत्या मामले में मुख्य हत्यारा सहित हत्या की साजिश रचने वाले दो भाइयों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया। 

सहायक पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतक के दो भाई ही हत्या के साजिशकर्ता थे। प्रॉपर्टी के लिए दोनों भाइयों ने षडयंत्र रचकर सौरभ सिंह नाम के शूटर से हत्या करवाया। गौरतलब है कि फुलवारीशरीफ के मुनिर कॉलोनी लाल मियां की दरगाह निवासी खुर्शीद अंसारी के चौतीस वर्षीय पुत्र फिरोज अंसारी की अज्ञात लोगों ने हत्या कर शव को नेउरा के धुरिचक रेलवे पटरी के समीप झाड़ी में फेंक दिया था। मृतक के भाई अफरोज अंसारी के लिखित आवेदन पर हत्या की प्राथमिकी अज्ञात पर दर्ज की गई थी। जिसका बिहटा/ नेउरा ओपी थाना कांड संख्या 644/21 दर्ज की गई थी।

पटना से सुमित की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News