बीजेपी की घोषणापत्र में कांग्रेस के इन वायदों का दिया गया जवाब

बीजेपी की घोषणापत्र में कांग्रेस के इन वायदों का दिया गया जवाब

NEWS4NATION DESK : भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को अपना घोषणापत्र जारी किया। पार्टी ने अपने 'संकल्प पत्र' में कांग्रेस के घोषणापत्र के कई वादों का जवाब दिया। जिसमें राम मंदिर, सिटीजनशिप बिल समेत कई बातें शामिल है। 

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भाजपा राम मंदिर को लेकर आज एकबार फिर अपने संकल्प को दोहरा रही है। राम मंदिर का भव्य निर्माण होगा। इसके लिए सभी संभावनाओं को तलाश की जा रही है। 

वहीं उन्होंने कहा कि किसी भी प्रदेश की संस्कृति और वहां की रितिरिवाजों या मान्याताओं के साथ बिना कोई छेड़छाड़ किए सिटिजनशिप बिल को लागू किया जाएगा। 

राजनाथ सिंह ने कहा कि किसानों के हित के लिए हमारी सरकार ने पहले भी कई योजनाएं चलाई है और आगे भी उनके लिए हम काम करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी की जायेगी। पांच साल तक एक लाख रुपए के कृषि लोन पर कोई ब्याज नहीं लगेगा। देशभर के किसानों को 6 हजार रुपए सालाना मिलेगा। 60 साल की उम्र वाले सभी किसानों को पेंशन की सुविधा दी जाएगी।


 उन्होंने कहा कि भाजपा तीन तलाक के खिलाफ कानून लगाएगी। भाजपा ने एक बार फिर जनता से तीन तलाक पर कानून लाने का वादा किया है। पार्टी पहले से ही तीन तलाक के खिलाफ आक्रमक रही है।


 बता दें इससे पहले कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में गरीबों को साल में 72 हजार रुपए देने का वादा किया है।यानी की अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो हर महीने गरीबों को 6 हजार रुपए देगी। पार्टी ने इस स्कीम को 'गरीबी पर वार, हर साल 72 हजार' के नारे के तौर पर पेश किया था। कांग्रेस ने घोषणापत्र में 22 लाख सरकारी नौकरियों का वादा किया था।


 कांग्रेस ने अपने 2019 के मेनीफेस्टो में कहा है कि अगर वह सत्ता में आई तोकिसानों के लिए अलग से बजट जारी करेगी।किसानों का कर्ज न चुका पाने को अपराध की श्रेणा से बाहर किया जाएगा। जीडीपी का 6 फीसदी हिस्सा शिक्षा पर खर्च किया जाएगा।

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में दावा किया है कि उसकी सरकार बनी तो धारा 370 को बदले का कोई प्रयास नहीं किया जाएगा।  

Find Us on Facebook

Trending News