भारत आएंगे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री? SCO बैठक के लिए इमरान खान समेत अन्य नेताओं को भेजा जाएगा न्योता

भारत आएंगे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री? SCO बैठक के लिए इमरान खान समेत अन्य नेताओं को भेजा जाएगा न्योता

भारत और पाकिस्तान के बीच जबरदस्त तनाव के बीच इस साल इमरान खान का दौरा हो सकता है। भारत उन्हें SCO यानी शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (शंघाई सहयोग संगठन) की बैठक के लिए न्योता भेजेगा। इस बैठक के लिए भारत पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान समेत अन्य नेताओं को न्योता देगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि इस साल SCO से जुड़े देशों की सरकारों की सालाना बैठक के लिए यह बुलावा भेजा जाएगा।


 रवीश कुमार ने कहा कि SCO के सभी 8 सदस्य देशों, 4 पर्यवेक्षकों और डायलॉग पार्टनरों को इस बैठक के लिए आमंत्रित किया जाएगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा, 'यह सालाना बैठक प्रधानमंत्री स्तर पर होती है और इसमें SCO के कार्यक्रमों, बहुपक्षीय आर्थिक और कारोबारी सहयोग पर चर्चा होती है।'


 
 रवीश कुमार से जब पूछा गया कि क्या पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को बैठक के लिए न्योता दिया जाएगा तो उन्होंने कहा, 'एससीओ की स्थापित प्रथा और प्रक्रिया के तहत सभी 8 सदस्य देशों के साथ-साथ 4 पर्यवेक्षक देशों और अन्य अंतरराष्ट्रीय डायलॉग पार्टनरों को बैठक में शामिल होने के लिए न्योता दिया जाएगा।' इमरान को न्योता दिया जाएगा या नहीं, इस सवाल पर एक अन्य अधिकारी ने जवाब दिया- 'हां'। पहली बार भारत SCO के काउंसिल ऑफ हेड्स ऑफ गवर्नमेंट की बैठक की मेजबानी करेगा। संगठन के सचिव व्लादिमीर नोरोव ने मंगलवार को यह जानकारी दी थी।


 
 सरकार ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को न्योते का ऐलान ऐसे वक्त में किया है जब दोनों देशों के बीच संबंध निचले स्तर पर हैं। भारत और पाकिस्तान दोनों ही 2017 में चीन के दबदबे वाले SCO के पूर्णकालिक सदस्य बने थे। आम तौर पर एससीओ की हेड्स ऑफ गवर्नमेंट मीटिंग में विदेश मंत्रियों की भागीदारी होती है। हालांकि, सदस्य देश चाहे तो प्रधानमंत्री को भी भेज सकता है। ऐसी बैठकों में भारत का प्रतिनिधित्व हमेशा विदेश मंत्री करते रहे हैं जबकि राष्ट्र प्रमुखों की बैठक में प्रधानमंत्री शिरकत करते हैं।



Find Us on Facebook

Trending News