ऐसा भी होता है! मंडप में फेरों से पहले हुआ कुछ ऐसा कि दूल्हे ने शादी से कर दिया इनकार, वजह जानकर हैरान रह गए दुल्हनवाले

ऐसा भी होता है! मंडप में फेरों से पहले हुआ कुछ ऐसा कि दूल्हे ने शादी से कर दिया इनकार, वजह जानकर हैरान रह गए दुल्हनवाले

SIWAN : आम तौर पर किसी शादी के दौरान दूल्हा दहेज नहीं मिलने के कारण विवाह करने से इनकार कर देता है या फिर किसी विवाद के कारण शादी टल जाती है। लेकिन सिवान जिले में एक शादी समारोह में सबकुछ सही होने के बाद भी ठीक फेरों के समय दुल्हन को देखते ही दूल्हे ने शादी करने से इनकार कर दिया। दूल्हे की शादी से इनकार की जो वजह सामने आयी, उसे जानकर वधू पक्ष के लोग भी हैरान रह गए। बताया गया कि दूल्हा पहले से ही शादी शुदा था और वह दूसरी शादी करने जा रहा था. लेकिन ऐन समय पर उसने अपनी दिल की आवाज सुनी और शादी से इनकार कर दिया।

शादी से इनकार का यह अनोखा मामला जिले के बरौली थाना क्षेत्र के सरेयां नरेंद्र पंचायत से जुड़ा है। जहां रविवार को यह  शादी समारोह आयोजित थी। बारात गोरेयाकोठी थाना अंतर्गत दुधड़ा गांव से आयी थी। दुधड़ा गांव के भोला साह अपने बेटे विनोद गुप्ता की बारात लेकर आये थे। लेकिन जैसे ही उसने मंडप में दुल्हन के रूप में सजी ममता कुमारी को देखा, उसकी अंतरात्मा जाग गई और उसने पूरी सच्चाई बता दी।

जबरन शादी करवाने की बात

दूल्हा बने विनोद ने बताया कि उसकी शादी जबरन करवाई जा रही है। वह पहले से ही शादीशुदा है। यह सुनकर लड़की के रिश्तेदार और ग्रामीण सभी सन्न रह गये। दुल्हन ममता वधु ममता कुमारी मंडप छोड़कर अंदर चली गयी। महिलाओं द्वारा गाये जा रहे मंगल गीत बंद हुए हो गये. बैंड बाजा वाले भी बाजा बजाना बंद कर चले गये। उसके बाद सभी बाराती को बंधक बना लिया गया।


पंचायत में हुआ दोनों पक्ष में समझौता

इस मामले को लेकर सोमवार की सुबह पंचायती बैठी।  पंचों ने दोनो पक्षों की बातों को सुनने के बाद वर पक्ष पर 7.75 लाख का आर्थिक दंड लगाया। जिसे वर पक्ष ने स्वीकार भी कर लिया। साथ ही एक-दूसरे को दिए उपहार भी लौटा दिये. पंचायती करने वालों में पूर्व मुखिया शमा आलम सहित दर्जनों बुद्धिजीवी थे. पंचायत के बाद दूल्हे, उसके पिता तथा बारातियों को छुड़ाकर घर वापस भेजवाया गया. वहीं एक युवती की जिंदगी  बर्बाद होने से बचने को लेकर लोगों में खुशी भी थी।


Find Us on Facebook

Trending News