मोदी सरकार की अग्निपथ योजना को जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने बताया सेना के लिए आत्मघाती, वापस नहीं ली गयी तो होगा बड़ा आंदोलन

मोदी सरकार की अग्निपथ योजना को जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने बताया सेना के लिए आत्मघाती, वापस नहीं ली गयी तो होगा बड़ा आंदोलन

पटना. भारतीय सेना में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की नई योजना अग्निपथ के खिलाफ देशभर में चल रहे प्रदर्शन के बीच गुरुवार को जन अधिकार पार्टी (लो) के मुखिया सह पूर्व सांसद पप्पू यादव ने इसे सेना के लिए आत्मघाती बताया। पटना में उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि वन रैंक-वन पेंशन का नारा देकर आने वाली मोदी सरकार अब नो रैंक-नो पेंशन लागू करने का काम कर रही है। पप्पू यादव ने सरकार के इस कदम को सेना का मनोबल तोड़ने वाला कदम बताया और कहा कि भारतीय सेना हमारा गर्व है। इसका राजनीतिकरण बर्दाश्त नहीं होगा। यह सेना की अस्मिता पर चोट है। यह देश के स्वाभिमान पर हमला है।

इस दौरान पप्पू यादव ने पूछा कि क्या मोदी सरकार अब हमारे जवानों में 4 साल में बेरोजागर कर अडानी-अम्बानी के घर दरबान बनाने के फिराक में हैं। उन्होंने कहा कि 8 सालों में 16 करोड़ रोजगार देने की बात कहने वाली मोदी सरकार ने अब तक 12 करोड़ से अधिक युवाओं से रोजगार छीनने का काम किया है। यह सरकार सेना विरोधी है, रोजगार विरोधी है, किसान विरोधी है। छात्र, युवा, महिला और संविधान विरोधी है। इसलिए हम केंद्र सरकार से कहना चाहते हैं कि वे सेना के साथ खिलवाड़ बंद करे और अग्निपथ योजना को वापस लें। वरना पुरे बिहार प्रदेश में आंदोलन होगा।


नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस नेताओ के आंदोलन पर भी पप्पू यादव ने मोदी सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार पुलिस किसी पार्टी के दफ्तर में घुस कर उनके महिला सांसद समेत पार्टी के वरीय नेताओं के साथ लगातार बदसलूकी हुई। लगातार विपक्ष को प्रदर्शन करने से से रोका जा रहा है। सिर्फ इसलिए कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने अडानी को पेड़ काटने से मना कर  दिया। इसके बाद राहुल गांधी को परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज यह सवाल राहुल गांधी का नहीं है। यह सवाल है सरकार की जनता विरोधी मानसिकता का है। उन्होंने कहा कि मोदी - शाह को अगर राहुल गांधी से इतना ही डर लगता है, तो वो क्यों नहीं उनकी निगरानी के लिए उनके पास CCTV लगाते हैं।

पप्पू यादव ने सरकार को इस मामले में अल्टीमेटम दिया और कहा कि अगर 23 जून तक सरकार विपक्ष पर हमला बंद नहीं करती, तो जन अधिकार पार्टी बिहार में भारत सरकार के किसी भी कार्यालय को चलने नहीं देगी। पप्पू यादव के संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह कुशवाहा, राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू और प्रदेश प्रधान महासचिव अवधेश कुमार लालू मौजूद रहे।

Find Us on Facebook

Trending News