इस राजघराने ने खुद को बताया भगवान श्रीराम का वंशज...जानें पूरा मामला

इस राजघराने ने खुद को बताया भगवान श्रीराम का वंशज...जानें पूरा मामला

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर के मसले पर चल रही सुनवाई के बीच जयपुर के पूर्व राजघराने की ओर से श्रीराम का वंशज होने का दावा किया गया है। पूर्व राजघराने की सदस्य और राजसमंद से बीजेपी की सांसद दीया कुमारी ने कहा कि वे भगवान राम के वंशज हैं। उन्होंने पोथीखाना में उपलब्ध दस्तावेजों के आधार पर इसका दावा किया है।

बता दें कि अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। 9 अगस्त को कोर्ट ने रामलला के वकील से पूछा था- क्या भगवान राम का कोई वंशज अयोध्या या दुनिया में है? इस पर वकील ने कहा था- हमें जानकारी नहीं। मगर जयपुर के राजपरिवार का कहना है कि हम भगवान राम के बड़े बेटे कुश के नाम पर ख्यात कच्छवाहा/कुशवाहा वंश के वंशज हैं। यह बात इतिहास के पन्नों में दर्ज है।

पूर्व राजकुमारी दीयाकुमारी ने इसके कई सबूत भी दिए हैं। उन्होंने एक पत्रावली दिखाई है, जिसमें भगवान श्रीराम के वंश के सभी पूर्वजों का नाम क्रमवार दर्ज हैं। इसी में 289वें वंशज के रूप में सवाई जयसिंह और 307वें वंशज के रूप में महाराजा भवानी सिंह का नाम लिखा है। इसके अलावा पोथीखाने के नक्शे भी हैं।

जयपुर राजघराने की पूर्व राजमाता पद्मिनी देवी ने कहा किराम मंदिर पर जल्द समाधान हो। चूंकि काेर्ट ने पूछा है कि भगवान राम के वंशज कहां हैं? इसलिए हम सामने आए हैं कि हां! हम उनके वंशज हैं। दस्तावेज सिटी पैलेस के पोथीखाने में हैं। हम नहीं चाहते कि वंश का मुद्दा बाधा पैदा करे। राम सबकी आस्था के प्रतीक हैं।


Find Us on Facebook

Trending News