24 घंटे में तीन मर्डर से दहला जमुई..अपराधियों ने तीन युवकों की गोली मारकर की हत्या...पुलिस के उड़े होश...

24 घंटे में तीन मर्डर से दहला जमुई..अपराधियों ने तीन युवकों की गोली मारकर की हत्या...पुलिस के उड़े होश...

JAMUI : एक तरफ बिहार के मुख्यमंत्री समाधान यात्रा कर रहे हैं, दूसरी तरफ बिहार की कानून व्यवस्था लगातार खराब होती जा रही है। मामला जमुई जिले से जुड़ा है। जहां एक ही रात मे दो अलग अलग घटनाओं  में तीन लोगों की हत्या कर दी गई। जहां सोनो थाना क्षेत्र के जुगड़ी गांव में रविवार की देर रात बेखौफ अपराधियों ने दो व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं दूसरी घटना में मुख्य पार्षद का चुनाव लड़ चुके प्रत्याशी के भाई की सदर थाना क्षेत्र में गोलियों से छलनी कर दिया गया।

सदर थाना में बेकाबू हुए अपराधी, युवक को भूना

बीते रविवार देर शाम सदर थाना क्षेत्र के आजाद नगर मोहल्ला में अपराधी बेलगाम हो गए. बेखौफ अपराधियों ने एक युवक को गोलियों से छलनी कर दिया. मृत युवक की पहचान भछियार मोहल्ला निवासी निजाम उद्दीन के पुत्र शादाब आलम उर्फ सुड्डू के रूप में किया गया है. बताया जाता है कि सुड्डू हमेशा अपने साथियों के साथ आजाद नगर मोहल्ला आया करता था. इसी क्रम में रविवार की देर शाम भी वह आजाद नगर आया हुआ था. इसी दौरान अपराधी आए और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी.

युवक के सिर और छाती में चार गोली मारी

अपराधियों ने युवक के सिर और छाती में चार गोली मारी. गोली की आवाज सुनकर जब तक स्थानीय लोग वहां एकत्रित होते तब तक युवक की मौत हो चुकी थी. फिलहाल अपराधियों की पहचान नहीं हो पाई है और घटना के कारणों का भी पता नहीं चल सका है. लेकिन बताते चलें कि अपराधियों ने जिस युवक की हत्या की है उसका भाई अभी कुछ दिनों पहले हुए नगर परिषद चुनाव में मुख्य पार्षद पद से प्रत्याशी रह चुका था.

दो लोगों को उतारा मौत का घाट

वहीं दूसरी घटना सोनो थाना क्षेत्र की है। जहां देर रात अपराधियों के द्वारा एक व्यक्ति के गर्दन में और एक व्यक्ति के सिर में गोली मारकर घटना को अंजाम दिया गया है। फिलहाल घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है और ना ही अपराधियों की पहचान हो पाई है। पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।  मृतक एक व्यक्ति की पहचान सोनो थाना क्षेत्र के लीला तेरी मुसहरी निवासी स्वर्गीय तारणी मांझी के पुत्र मनोज मांझी के रूप में हुई है। जबकि दूसरे मृतक व्यक्ति की फिलहाल पहचान नहीं हो पाई है।।। दोनों व्यक्ति को अपराधियों के द्वारा एक एक गोली मारी गई है।

बताया जाता है कि दोनों व्यक्ति कचरा चुनने का काम करता था और इधर-उधर फुटपाथ पर रहकर ही गुजर-बसर कर रहा था। देर रात अपराधियों के द्वारा एक व्यक्ति के गर्दन में और एक व्यक्ति के सिर में गोली मारकर घटना को अंजाम दिया गया है। फिलहाल घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है और ना ही अपराधियों की पहचान हो पाई है। पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी हुई है। साथ ही एक व्यक्ति की पहचान भी की जा रही है।

 मृतक मनोज मांझी के भाई ने बताया कि मनोज दो वर्षों से मानसिक रूप से बीमार चल रहा था। वह दो साल से घर नहीं आता था और कचड़ा चुनकर ही फुटपाथ पर रहकर गुजर-बशर कर रहा था। उसका किसी के साथ किसी प्रकार की कोई दुश्मनी भी नहीं थी।


Find Us on Facebook

Trending News