जानिये कब जारी हो सकता है बिहार के मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट

जानिये कब जारी हो सकता है बिहार के मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट

डेस्क...बिहार बोर्ड की मैट्रिक और इंटर की परीक्षा का रिजल्ट होली से पहले जारी हो सकता है. बिहार में इंटर के कॉपियों की जांच कई केंद्रों पर अभी भी हो रही है. 15 मार्च को मूल्यांकन कार्य समाप्त होना था, लेकिन दो दिन मूल्यांकन कार्य बाधित होने से कई केंद्रों पर दो दिन का अतिरिक्त समय मूल्यांकन कार्य में लगा. फिलहाल अंग्रेजी और हिंदी के कॉपियों का मूल्यांकन कार्य पूरा नहीं हुआ है. 19-20 मार्च तक मूल्यांकन कार्य समाप्त होने की संभावना है. Bihar Board Intermediate Exams 2021 1 से 13 फरवरी 2021 तक आयोजित किए गए थे. बिहार मैट्रिक परीक्षा (bihar matric result 2021) की कॉपियों का मूल्यांकन 12 मार्च से 24 मार्च के बीच किया जा रहा है. 

उन्होंने बताया कि मैट्रिक की कॉपियों के मूल्यांकन में इसलिए वक्त लगा क्योंकि सोशल साइंस का पेपर रद्द हुआ था. 8 मार्च को दोबारा से मैट्रिक सोशल साइंस का पेपर कराया गया है. अब सारे पेपर हो चुके हैं, इसलिए उसके मूल्यांकन का काम चल रहा है. बिहार बोर्ड द्वारा इस साल मार्च के आखिर तक इंटर परीक्षा के परिणाम जारी करने की उम्मीद है. हालांकि, होली का त्योहार 29 मार्च को पड़ने के कारण, माना जा रहा है कि अप्रैल में परिणाम घोषित होने की संभावना है. इस साल इंटरमीडिएट परीक्षाओं के लिए 13.5 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। साथ ही, अन्य 16.8 लाख उम्मीदवारों ने बीएसईबी, बिहार बोर्ड कक्षा 10 परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन किया था. 10 वीं का परिणाम कक्षा 12 के बाद जारी हो सकता है. 10वीं की परीक्षाओ की कॉपी जांचने का काम 13 मार्च से शुरू किया गया था, जिसके 24 मार्च तक खत्म होने की संभावना है. इसी तरह 12वीं की परीक्षा कॉपी जांचने का काम 19 मार्च तक पूरा होने की उम्मीद है. बिहार में 10 वीं की परीक्षाएं 24 फरवरी को खत्म हो गईं थी। जब कि 12वीं की परीक्षाएं 13 फरवरी को खत्म हुईं थी। बोर्ड ने इससे पहले ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर के लिए Asnwer key जारी कर दी थी, जिसके लिए 16 मार्च, 2021 तक आपत्तियां दर्ज करने का मौका दिया गया था. 

बिहार बोर्ड द्वारा इस साल मार्च के आखिर तक इंटर परीक्षा के परिणाम जारी करने की उम्मीद है. हालांकि, होली का त्योहार 29 मार्च को पड़ने के कारण, माना जा रहा है कि अप्रैल में परिणाम घोषित होने की संभावना है. इस साल इंटरमीडिएट परीक्षाओं के लिए 13.5 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. जबकि 16.8 लाख उम्मीदवारों ने 10वीं कक्षा की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन किया था. 10 वीं के परिणाम कक्षा 12 के बाद जारी हो सकते हैं. बता दें कि इस साल 10 वीं परीक्षाएं 24 फरवरी 12 की 13 फरवरी को समाप्त हुई थीं. बताया जा रहा है कि इस साल बोर्ड रिजल्ट जारी होने में पिछले साल से ज्यादा समय लग सकता है. पिछले साल, 12वीं क्लास का परिणाम कोरोना वायरस (covid-19) के कारण लगे लॉकडाउन से ठीक पहले 25 मार्च 2020 को जारी किया था. जबकि 10 वीं का परिणाम 26 मई, 2020 को जारी किया गया था. बिहार बोर्ड कक्षा 12 वीं की परीक्षा में बैठने के लिए कुल 13.5 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था. उनमें से 13.5 लाख छात्र परीक्षा के लिए उपस्थित हुए। दूसरी ओर, इस साल कक्षा 10 वीं बोर्ड परीक्षा के लिए लगभग 16.8 लाख ने पंजीकरण कराया. बोर्ड का कहना है कि होली से पहले कॉपियां जांचने का काम हो जाएगा। Bihar Board 10th Result 2021 onlinebseb.in पर प्रकाशित होगा। (इसके अलावा बिहार बोर्ड की अन्य आधिकारिक वेबसाइट्स biharboardonline.bihar.gov.in, biharboardonline.com पर भी परिणाम देखा जा सकता है)

जो छात्र बिहार बोर्ड 10वीं परीक्षा 2021 में एक या दो विषयों में असफल होते हैं, वे उन विषयों के लिए कंपार्टमेंटल परीक्षा लिखकर खुद को फिर से साबित कर सकते हैं. इससे छात्रों को अपने शैक्षणिक वर्ष को बचाने में मदद मिलेगी. छात्र ऑनलाइन फॉर्म भरकर और मामूली शुल्क देकर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं. बिहार मैट्रिक रिजल्ट 2021 की जाँच करने के बाद, छात्रों को पीडीएफ कॉपी डाउनलोड करनी होगी या भविष्य के संदर्भ के लिए स्कोरकार्ड का प्रिंट आउट लेना होगा. इस स्कोरकार्ड का उपयोग एक अनंतिम मार्क शीट के रूप में किया जा सकता है जब तक कि बिहार बोर्ड द्वारा आधिकारिक जारी नहीं किया जाता है. यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि जब तक बोर्ड द्वारा मूल अंक पत्र जारी नहीं किए जाते हैं तब तक अनंतिम मार्क शीट मान्य हैं. बीएसईबी द्वारा जारी किए जाने के बाद छात्रों को अपने संबंधित स्कूलों से अपनी मूल मार्कशीट एकत्र करनी होगी. परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले छात्रों को आधिकारिक वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर नजर रखने की सलाह दी जाती है. BSEB ने 13 मार्च से कक्षा 10 वीं के पेपर का मूल्यांकन शुरू किया और 24 मार्च तक इसका समापन होगा. दूसरी ओर, कक्षा 12 वीं का पेपर मूल्यांकन 15 मार्च तक संपन्न होने की उम्मीद थी, लेकिन इसमें देरी हुई और अब उम्मीद है कि कक्षा 12 वीं की परीक्षा का मूल्यांकन 19 मार्च तक किया जाएगा. बीएसईबी 10 वीं परिणाम 2021 की जांच करने के लिए छात्रों को अपना रोल कोड और रोल नंबर दर्ज करना होगा. बिहार बोर्ड 10 वीं के परिणाम 2021 में विषयवार अंक, ग्रेड, व्यक्तिगत विवरण और अन्य महत्वपूर्ण विवरण शामिल रहेंगे. बता दें यह परीक्षा 17 से 24 फरवरी 2021 तक आयोजित की गई थी.


Find Us on Facebook

Trending News