राजद के तीन विधायकों ने थामा जदयू का दामन, विजेंद्र यादव ने पार्टी में किया स्वागत

राजद के तीन विधायकों ने थामा जदयू का दामन, विजेंद्र यादव ने पार्टी में किया स्वागत

PATNA : राजद के तीन विधायकों ने जनता दल यूनाइटेड का दामन थाम लिया. राज्य के उर्जा मंन्त्री विजेंद्र यादव ने उनका पार्टी में स्वागत किया. इस मौके पर उन्होंने कहा की 2015 में नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव हुआ था. उसमे ये थे और अपने नेता के पास आये है, उन्होंने कहा की नीतीश कुमार ने परिवार के लिए काम नही किया. कोई उनके परिवार का नाम नही जानता. 

वहीँ श्याम रजक के मामले पर उन्होंने कहा की अज्ञानता में कुछ लोग बक बक करते है. आजकल वो बकबकी बहुत कर रहे है, हमने अंतिम क्षण तक मौका दिया कि वो सुधार जाए. नहीं माने  इसलिए निकाला, वे राजद कोई छोड़कर आये थे. हम उनको बधाई देते है वो उन्नति करे,

उधर चिराग पासवान पर उन्होंने कहा की वे कभी सहयोगी होते हैं कभी विरोधी होते है, लोकतंत्र सबको बोलने का अधिकार है, राजनीति में कब कौन कहाँ रहेगा कौन बता सकता है, कोई आता है कोई जाता है, नेता और दल हमेशा ताकतवर होता है,

वहीँ जदयू में शामिल बाईट: महेश्वर यादव ने कहा की राष्ट्रीय जनता दल गरीबो की जगह नही है. वह बड़े बड़े पूंजीपतियों की जगह हो गई थी. उसे परिवार की पार्टी बना लिया गया था, कल मुझे निष्कासित किया गया है. जब उन्हें पता चला की आज जनता दल यूनाइटेड में जांवाला हूँ. तब निष्काषित किया गया. उन्होंने कहा की मैंने नीतीश कुमार के काम को देखा और पूरे हृदय से पार्टी में शामिल हो रहा हूँ. 

उधर प्रेमा चौधरी ने कहा की मैं 20 साल से पार्टी में हूं. बहुत ईमानदारी से काम किया. मै 3 बार विधायक भी बनी, लेकिन 2015 का चुनाव हुआ. उसके बाद से सौतेला व्यवहार किया गया, लेकिन नीतीश कुमार ने महिलाओं को विशेष सुविधा दिया, आरक्षण दिया, खासकर दलित महिलाओं को आरक्षण दिया/ आधी आबादी उनके साथ है, मैं दलित होकर मुख्यमंत्री के पास जब भी गई. काम हुआ. मुझे लगा नही की मैं विपक्ष में हूं, मैं बीजेपी में जा सकती थी. लेकिन पुराने साथी के साथ आई. 

वही डॉ अशोक कुमार ने कहा की राजद छोड़कर इस दल में आने का कारण है की जो नीतीश कुमार ने विकास का जो लाइन खिंचा आजादी के बाद. वह किसी ने नही किया, उपेंद्र जी को उपेंद्र कुशवाहा किसने बनाया. नीतीश कुमार ने. विरोधी दल का नेता बनाकर घुमाने का काम किया. लेकिन उपेंद्र कुशवाहा ने छुरा भोकने का काम किया, हमारे समाज के लोगो ने दवाब बनाया की नीतीश कुमार का दामन थामिए और कुशवाहा समाज को आगे बढ़ाइए, सामाजिक समीकरण का काम जो नीतीश कुमार ने किया वो किसी ने नही किया.

पटना से देबांशु प्रभात की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News