उपेंद्र कुशवाहा को माला पहनाने के लिए जदयू नेता हुआ नाराज, कार्यक्रम से भागने लगे

उपेंद्र कुशवाहा को माला पहनाने के लिए जदयू नेता हुआ नाराज, कार्यक्रम से भागने लगे

कैमूर. जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा कैमूर के मोहनिया पहुंचे. यहां उन्होंने नीतीश सरकार की उपलब्धी गिनाई. उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य और विकास के क्षेत्र में अच्छा काम कर रही है. अब विद्यालय के प्रधानाध्यापकों की बहाली बीपीएससी के माध्यम से होगी, जहां वैकेंसी भी निकल चुकी है. वहीं उपेंद्र कुशवाहा को माला पहनाने के लिए जिला स्तरीय एक नेता नाराज हो गये हैं.

नाराज नेता ने बताया कि वह जिला अध्यक्ष है, वे भी अपने नेता को सम्मानित करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें सम्मानित नहीं करने दिया जा रहा है. उन्होंने उपेंद्र कुशवाहा के समामने ही नाराजगी जाहिर की और कहा मैं आपको प्रणाम करते हुए चलता हूं. बाद वहां आसपास के नेताओं ने उन्हें समझाया और बाद में नाराज नेता उपेंद्र कुशवाहा को माला पहनाया.

उन्होंने कहा कि शिक्षा को ऊंचे मुकाम तक ले जाना है, जिसके लिए सरकार लगातार कार्य कर रही है. विद्यालय के शिक्षकों से एमडीएम की संलिप्तता को भी धीरे-धीरे समाप्त करने के लिए सरकार कदम बढ़ाए है. पटना के कुछ जिलों में दूसरी एजेंसी को दिया गया है, वहां सफल हुआ, तो आगे पूरे बिहार में मॉडल लागू कर दिया जाएगा. स्टूडेंट के लिए युवाओं के लिए बेहतर काम हो रहा है.

स्टूडेंट की बात करें तो उन्हें जीरो प्रतिशत ब्याज पर बैंकों से लोन मिल रहा है, जिससे कि अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें और युवाओं को उद्योग खोलने के लिए बैंकों से ऋण मिल रहा है, जिससे की उनको किसी के आगे नौकरी के लिऐ हाथ फैलाने की जरूरत नहीं पड़े, वह खुद अपना उद्योग लगाकर लोगों को रोजगार दे सकते हैं. युवाओं में कुछ करने की क्षमता है.

Find Us on Facebook

Trending News