जेडीयू नेता नीरज कुमार का तेजस्वी के धरने पर हमला, कहा- 'छुपाना है उस किरदार को जो नकली नेता है और दागदार का बेटा है'

जेडीयू नेता नीरज कुमार का तेजस्वी के धरने पर हमला, कहा- 'छुपाना है उस किरदार को जो नकली नेता है और दागदार का बेटा है'

पटना... बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने नए कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताते हुए बिहार के किसानों को भी आंदोलन में शामिल होने की अपील की है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव व उनकी पार्टी के नेता व समर्थकों एवं महागठबंधन में शामिल कांग्रेस व वाम दल पटना के गांधी मैदान में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने इस कानून के विरोध में धरने पर बैठेंगे। 

राजद नेता ने कहा था कि गांधी मूर्ति के पास इसलिए धरना देगी क्योंकि ये गांधी जी के विचारों से जुड़ा मसला है। अब तेजस्वी यादव के इसी वक्तव्य के आधार पर बिहार के पूर्व मंत्री और जेडीयू के वरिष्ठ नेता नीरज कुमार ने सोशल मीडिया के जरिए निशाना साधा है, साथ ही उनके धरने को लेकर एक कविता भी सोशल मीडिया पर लिखा, जिसे पसंद किया जा रहा है। 

जेडीयू नेता नीरज कुमार ने ट्वीट कर लिखा है कि भ्रष्टाचार और गंभीर मामलों के आरोपी सजायाफ्ता लालू प्रसाद कैदी नंबर 3354 के सुपुत्र तेजस्वी यादव जी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चरणों में अब जाकर अनशन और धरना की बात कर रहे हैं। यह तो बिल्कुल बेमानी है। जो भ्रष्टाचार का आरोपी होगा, उसको राष्ट्रपिता के चरणों में शिवानी का अधिकार नहीं है। आपको तो धरना देना चाहिए था तो बेउर जेल में, जहां आपके आइकॉन बैठे हुए हैं। आपके आइकॉन कोटवार जेल में, तिहाड़ जेल में हैं, उसके सामने जेल में धरना करते। बिहार के लोग भी एहसास करते कि आपके आईकॉन जेल की सलाखों में हैं।  तेजस्वी जी आपको राष्ट्रपिता की आत्मा को कष्ट देने का अधिकार नहीं है। 

वहीं जेडीयू नेता ने एक कविता भी ट्वीट किया, जिसे जनप्रतिनिधि और आम लोग खूब पढ़ रहे हैं। उन्होंने लिखा है कि तेजस्वी यादव, अनशन तो बहाना है। अब किसानों का हक खाना है। गांधी मूर्ति की आड़ में बहुत कुछ छुपाना है। छुपाना है कि किसानों को मजदूर किसने बनाया, छुपाना है कि चारा किसने खाया, छुपाना है कि उस चेहरे को, जो खुद तो बैठा है सलाखों के पीछे, छुपाना है उस किरदार को जो नकली नेता है और दागदार का बेटा है। 

Find Us on Facebook

Trending News