बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के जनविश्वास यात्रा का तीसरा दिन आज, भोजपुर में सभा को करेंगे संबोधित, कार्यकर्ताओं में दिखा जोश
  • नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के जनविश्वास यात्रा का तीसरा दिन आज, भोजपुर में सभा को करेंगे संबोधित, कार्यकर्ताओं

  • मुख्यमंत्री के आगमन के पहले अपराधियों का तांडव, ताबड़तोड़ फायरिंग से दहला इलाका, लूटपाट से दहशत में लोग
  • मुख्यमंत्री के आगमन के पहले अपराधियों का तांडव, ताबड़तोड़ फायरिंग से दहला इलाका, लूटपाट से दहशत में लोग

  • बिहार विधानसभा के बजट सत्र का सातवां दिन आज, उपाध्यक्ष के लिए होगा नामाकंन, विपक्ष कर सकता है हंगामा
  • बिहार विधानसभा के बजट सत्र का सातवां दिन आज, उपाध्यक्ष के लिए होगा नामाकंन, विपक्ष कर सकता है

  • मोतिहारी पुलिस ने अपराध की योजना बनाते 3 बदमाशों को किया गिरफ्तार, हथियार और जिन्दा कारतूस किया बरामद
  • मोतिहारी पुलिस ने अपराध की योजना बनाते 3 बदमाशों को किया गिरफ्तार, हथियार और जिन्दा कारतूस किया बरामद

  • शेखपुरा में सहित हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, कहा प्रेम प्रसंग को लेकर हत्या, पुलिस ने 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार
  • शेखपुरा में सहित हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, कहा प्रेम प्रसंग को लेकर हत्या, पुलिस ने 5

  • बीजेपी ने राजद-कांग्रेस पर कसा तंज, कहा वन नेशन-वन इलेक्शन से भयभीत हैं परिवारवाद वाली पार्टियां
  • बीजेपी ने राजद-कांग्रेस पर कसा तंज, कहा वन नेशन-वन इलेक्शन से भयभीत हैं परिवारवाद वाली पार्टियां

  • बांका में देशी कट्टा के साथ गिरफ्तार युवक ने की पुलिस को गुमराह करने की कोशिश, हत्याकांड का निकला आरोपी
  • बांका में देशी कट्टा के साथ गिरफ्तार युवक ने की पुलिस को गुमराह करने की कोशिश, हत्याकांड का

  • कोरोना काल में निकला था विज्ञापन, अब चार साल बाद बिहार में आयुष चिकित्सकों का रिजल्ट जारी
  • कोरोना काल में निकला था विज्ञापन, अब चार साल बाद बिहार में आयुष चिकित्सकों का रिजल्ट जारी

  • बांका में अनियंत्रित ट्रक ने पुलिस वाहन में मारी टक्कर, तीन पुलिसकर्मी हुए जख्मी, अस्पताल में चल रहा है इलाज
  • बांका में अनियंत्रित ट्रक ने पुलिस वाहन में मारी टक्कर, तीन पुलिसकर्मी हुए जख्मी, अस्पताल में चल रहा

  • हाजीपुर पुलिस पर लगा बर्बरतापूर्वक मारपीट करने का आरोप, पीड़ित ने एसपी से मांगा इंसाफ
  • हाजीपुर पुलिस पर लगा बर्बरतापूर्वक मारपीट करने का आरोप, पीड़ित ने एसपी से मांगा इंसाफ

सीबीआई के बैन पर राजद की मांग को जदयू ने किया खारिज, कहा - ऐसा कभी नहीं होगा

सीबीआई के बैन पर राजद की मांग को जदयू ने किया खारिज, कहा - ऐसा कभी नहीं होगा

PATNA : बिहार में 20 दिन पुरानी महागठबंधन की सरकार में अब तक ऐसा दिख रहा था कि उनमें सबकुछ ठीक है। लेकिन, सोमवार को जिस तरह से राजद ने बिहार में सीबीआई की इंट्री पर प्रतिबंध लगाने की बात क्या कही, जदयू उसके विरोध में उतर आया है। राज्य में सीबीआई जांच पर रोक लगाने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के नेता आमने-सामने हो गए हैं। 

बीते सोमवार को जिस तरह से आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने राज्य में बिना अनुमति के सीबीआई जांच पर रोक लगाने की मांग की। खबर आई कि इसे लेकर सीएम नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन सरकार की बैठक भी हुई। उसके बाद भाजपा ने जदयू से इस पर जवाब मांगा था। वहीं राजद नेता के बयान पर अपनी किरकिरी होता देख जदयू को भी इस पर अपना पक्ष रखना पड़ा है। जेडीयू ने शिवानंद तिवारी के बयान को खारिज कर दिया। जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि इस बारे में कोई बैठक ही नहीं हुई।


उपेंद्र कुशवाहा बोले- इस बारे में कोई बैठक नहीं हुई

जेडीयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने सोमवार को कहा कि शिवानंद तिवारी के पास गलत जानकारी है। इस बारे में महागठबंधन सरकार की कोई बैठक नहीं हुई है। शिवानंद महागठबंधन के बड़े नेता हैं, लेकिन लग रहा है कि उन्हें गलत जानकारी मिली है। इसलिए उन्होंने ऐसा बयान दिया। बिना अनुमति के सीबीआई जांच पर रोक लगाने को लेकर कोई चर्चा ही नहीं हुई। कुशवाहा ने कहा कि इस तरह का फैसला किसी भी राज्य में नहीं होना चाहिए। इसमें सीबीआई जैसी संस्थाओं की कोई गलती नहीं है। बीजेपी सरकार गलत नीयत से एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।

क्या कहा था शिवानंद तिवारी ने

आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने शिवानंद तिवारी ने कहा कि जिस तरह से केंद्र सरकार सीबीआई का इस्तेमाल विरोधियों के खिलाफ कर रही है, उसे देखते हुए महागठबंधन सरकार को एजेंसी को जांच की मंजूरी वापस ले लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके अलावा नीतीश सरकार को अदालत का रुख भी करना चाहिए। एनडीए सरकार के कार्यकाल में सीबीआई, ईडी जैसी केंद्रीय एजेंसियों ने अपनी विश्वसनीयता खो दी है।