जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक 3 और 4 सितम्बर को, पटना में जुटेंगे देश भर के नेता, नीतीश को पीएम बनाने की बन सकती है रणनीति

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक 3 और 4 सितम्बर को, पटना में जुटेंगे देश भर के नेता, नीतीश को पीएम बनाने की बन सकती है रणनीति

पटना. जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 3 और  4 सितम्बर को पटना में होगी. बैठक में पूरे देश से जुड़े जदयू के पदाधिकारी भाग लेंगे. बैठक में केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया जाएगा. साथ ही वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति से जुड़े मुद्दों पर भी चर्चा होगी. दरअसल दो दिवसीय बैठक में दोनों दिन अलग अलग प्रकार की बैठक होगी. 

3 सितम्बर को पहले जदयू राज्य कार्यकारिणी की बैठक होगी. उसमें बिहार से जुड़े पार्टी से संबंधित विषयों और रणनीतियों पर चर्चा होगी. वहीं 4 सितम्बर को होने वाली बैठक राष्ट्रीय कार्यकारिणी की होगी. इसमें देश भर में जदयू के सांगठनिक विस्तार और आने वाले विधानसभा चुनावों तथा लोकसभा चुनाव को लेकर अहम चर्चा की जाएगी. खासकर नीतीश कुमार को वर्ष 2024 में प्रधानमंत्री बनाने से जुडी पार्टी की रणनीति पर देश भर के जदयू नेताओं से वार्ता होगी. 

वहीं बिहार में बनी नई महागठबंधन वाली सरकार में राजद और अन्य सहयोगी दलों के साथ जदयू के सामंजस्य बिठाने को लेकर भी नेताओं को पार्टी के शीर्ष नेता अहम सुझाव दे सकते हैं. किन कारणों से पार्टी ने एनडीए से नाता तोड़कर महागठबंधन से नाता जोड़ा इस पर चर्चा हो सकती है. पुरे देश से आने वाले प्रतिनिधियों को जदयू को मजबूत करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया जा सकता है. 

बैठक को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह संबोधित करेंगे. साथ ही केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित होगा. यह इस बैठक में सबसे अहम प्रस्ताव के रूप में होगा. वहीं पार्टी को मजबूत करने के मुद्दे पर भी प्रस्ताव पारित हो सकता है.


Find Us on Facebook

Trending News