BJP के फिर मेल होने की इच्छा जतानेवाले मांझी से जदयू ने किया किनारा, कहा - 'हम' संरक्षक की बातों से कोई फर्क नहीं पड़ता

BJP के फिर मेल होने की इच्छा जतानेवाले मांझी से जदयू ने किया किनारा, कहा - 'हम' संरक्षक की बातों से कोई फर्क नहीं पड़ता

PATNA : बिहार के मुखयमंत्री नीतीश कुमार के फिर से बीजेपी के साथ सरकार बनाने की चर्चा जोरों पर है। जिस तरह से प्रशांत किशोर और अब जीतन राम मांझी ने दो दिनों के अंतराल में बयान दिया। उसके  बाद बिहार के सभी पार्टियों को नया मुद्दा मिल गया है। जहां बीजेपी यह कह रही है कि नीतीश कुमार के साथ अब कभी सरकार नहीं बनेगी। वहीं  मांझी के बयान पर जदयू की तरफ से साफ साफ कह दिया गया कि वह क्या बोलते हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। जदयू और भाजपा का मेल अब कभी संभव नहीं  है।

जदयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने गया में नीतीश कुमार को लेकर दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए  जदयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा कि बिहार के पूर्व मुखमयमंत्री क्या बोलते हैं और क्या सोचते हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। हमारे नेता ने यह साफ कर दिया है कि वह बीजेपी के साथ कभी सरकार नहीं बनाएंगे. इसके बाद इस पर किसी प्रकार की चर्चा की जरुरत नहीं रह गई है. जहां तक भाजपा के साथ सरकार बनाने कीबात है मुख्यमंत्री जी पहले ही यब बात कह चुके हैं भाजपा के साथ सरकार बनाने का फैसला बड़ी भूल थी। बीजेपी अपने ही सहयोगी दलों को नुकसान पहुंचाने में लगी रहती है। यही कारण है कि आज  न सिर्फ बिहार में बल्कि पूरे देश में भाजपा के साथ जाने के लिए कोई पार्टी तैयार नहीं है।

मांझी ने दिया था यह बयान

गौरतलब है कि जीतन राम मांझी कल गया मे थे। जहां उन्होंने नीतीश कुमार की पलटीमार छवि की तुलना पूर्व सीएम महामाया प्रसाद सिन्हा से करते हुए कहा कि वह फिर से अगर बीजेपी के साथ जाते हैं, तो मैं इस फैसले का स्वागत करूंगा। मांझी ने कहा था कि अगर नीतीश कुमार को लगे कि वह महागठबंधन के साथ खुश नहीं है तो वह फिर से बीजेपी के साथ सरकार बनाएं। इसमें किसी प्रकार का नुकसान नहीं  है। मांझी के इस बयान के बाद नई चर्चा शुरू हो गई है।






















Find Us on Facebook

Trending News