JHARKHAND NEWS: हमें राज्य की बेटियों पर गर्व: हेमंत, सीएम ने की देश का नाम रौशन करने वाली खिलाड़ियों से बात, प्रोत्साहन राशि दिए जाने की घोषणा

JHARKHAND NEWS: हमें राज्य की बेटियों पर गर्व: हेमंत, सीएम ने की देश का नाम रौशन करने वाली खिलाड़ियों से बात, प्रोत्साहन राशि दिए जाने की घोषणा

रांची: राज्य के खिलाड़ियों को विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराना हमारी सरकार की प्राथमिकता है। झारखंड प्रदेश के खिलाड़ियों ने पूरे विश्व में अपने प्रतिभा का परचम लहराया है। राज्य के होनहार खिलाड़ियों के मेडल जीतने पर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित राशि देने का प्रावधान किया गया है। राज्य के खिलाड़ियों को कोई दिक्कत न हो इस निमित्त सरकार पैनी नजर रख रही है। यहां के खिलाड़ियों की रफ्तार को गति देने के लिए सरकार निरंतर प्रयासरत है। उक्त बातें मुख्यमंत्री ने शनिवार को कांके रोड रांची स्थित मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी, कोमालिका बारी एवं अंकिता भगत, कोच पूर्णिमा महतो तथा हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान एवं सलीमा टेटे को वर्चुअल माध्यम से संबोधित करते हुए कहीं। मुख्यमंत्री ने ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को दो करोड़, सिल्वर मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को एक करोड़ तथा ब्रोंज मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को 75 लाख रुपए इनाम राशि दिए जाने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने पेरिस में आयोजित तीरंदाजी विश्वकप में देश के लिए मान बढ़ाने वाली तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी को गोल्ड मेडल जीतने तथा टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने हेतु ईनाम राशि 50 लाख रुपए तथा विश्व कप तीरंदाजी में रिकर्व टीम स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतने के उपलक्ष्य में अंकिता भगत तथा कोमोलिका बारी को 20-20 लाख रुपए ईनाम राशि दिए जाने की घोषणा की। सीएम ने कहा कि राज्य के खिलाड़ियों को ओलंपिक प्रतिभागी बनने पर ही पांच लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि सरकार द्वारा दी जा रही है। आगामी 23 जुलाई 2021 से टोक्यो में प्रारंभ हो रहे ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए झारखंड से चुनी गईं हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान एवं सलीमा टेटे को भी 5-5 लाख रुपए प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। देश से बाहर खेलने वाले सभी खिलाड़ियों एवं कोच का 15 लाख रुपए का बीमा कराया जाएगा जिसका प्रीमियम सरकार भरेगी।

मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों को दी बधाई

मुख्यमंत्री ने दीपिका कुमारी तथा उनके पति अतनु दास को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि तीरंदाजी विश्वकप में गोल्ड मेडल जीतना देश के लिए गौरव की बात है। दीपिका कुमारी, अंकिता भगत तथा कोमोलिका बारी ने झारखंड के साथ-साथ देश का नाम रोशन किया है। मुख्यमंत्री ने तीरंदाजी खिलाड़ी दीपिका कुमारी को संबोधित करते हुए कहा कि आपको मैं दोहरी शुभकामनाएं देता हूं। तीरंदाजी विश्वकप में गोल्ड मेडल जीतना झारखंड के लिए सुखद पल हैं। झारखण्ड की बेटियों ने विश्व में देश का मान बढ़ाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा तैयार नई खेल नीति राज्य के खिलाड़ियों को और आगे ले जाएगी। राज्य सरकार का प्रयास है कि राज्य के खिलाड़ी अन्य विकसित देशों के अनुरूप अपनी तैयारी कर सके इस निमित्त इन्हें आधुनिक संसाधनों से लैस किया जाए। यहां के खिलाड़ियों को कैसे प्रमोट किया जाए इसके लिए मैं हमेशा चिंतित रहता था। खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चूंकि अब राज्य का प्रधान सेवक बनने का मुझे मौका मिला है तो निश्चित रूप से मैं आपके प्रतिभा को विश्व स्तर पर ले जाने का काम करूंगा। राज्य सरकार का वादा है कि आप जैसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों का मनोबल कभी नही टूटने दिया जाएगा। आपको देश के बाहर खेलने में कोई समस्या अथवा दिक्कत हो तो आप बेझिझक खेल सचिव के साथ समन्वय स्थापित करें। 

सीमित संसाधनों के बीच आपने मुकाम हासिल किया

मुख्यमंत्री ने तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी, अंकिता भगत, कोमोलिका बारी, हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान एवं सलीमा टेटे को संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी ने सीमित संसाधनों के बीच कड़ी प्रैक्टिस, दृढ़आत्मविश्वास, सच्ची लगन और मेहनत के बल पर स्वयं को इस मुकाम तक पहुंचाया है। मुझे पूरा विश्वास है कि आगे भी आप अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाते हुए बेहतर प्रदर्शन करेंगे। कोरोना वैश्विक महामारी में भी झारखंड के कदम अनेक क्षेत्रों में आगे बढ़ रहे हैं। आप खिलाड़ियों के द्वारा मेडल जीतकर लाना इसका एक बेहतर उदाहरण है। आने वाले समय में आप सभी खिलाड़ियों से प्रेरणा लेकर अन्य खिलाड़ी भी राज्य और देश का नाम विश्व पटल पर रोशन करेंगे। मुख्यमंत्री ने तीरंदाजी कोच पूर्णिमा महतो की प्रशंसा की तथा उन्हें बधाई दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी खिलाड़ी को अच्छा प्रदर्शन करने में कोच की भूमिका सदैव महत्वपूर्ण रहती है। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में ओरमांझी से कुश्ती के क्षेत्र में उभरती हुई खिलाड़ी चंचला का भी जिक्र करते हुए कहा कि राज्य सरकार हर संभव चंचला को मदद करेगी। चंचला कुश्ती के क्षेत्र में मेडल जीतकर लाए इस निमित्त किसी भी तरह से उन्हें संसाधन की कमी नहीं होने दी जाएगी।

पंचायत स्तर पर खेल के मैदान बने इस दिशा में हो रहा है कार्य

मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में सभी जिला, प्रखंड तथा पंचायत स्तर पर खेल के मैदान बनाए जाएं इस दिशा में राज्य सरकार कार्य कर रही है। हॉकी खेलने वाले क्षेत्रों के खिलाड़ियों के लिए एस्ट्रोटर्फ बनाया जा रहा है। पिछले 15 सालों के बाद पहली बार राज्य में खेल पदाधिकारियों की नियुक्ति की गई है। राज्य के खिलाड़ियों को सरकार पूरा सहयोग देगी। मुख्यमंत्री के समक्ष तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी, अंकिता भगत, कोमोलिका बारी तथा कोच पूर्णिमा महतो ने पेरिस में हुए तीरंदाजी विश्वकप में भारतीय खिलाड़ियों की तैयारी सहित गोल्ड मेडल जीतने तक के अनुभव को साझा किए। मुख्यमंत्री ने हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान तथा सलीमा टेटे से टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों पर चर्चा की तथा उनका हौसला अफजाई किया तथा टोक्यो ओलंपिक के लिए तीरंदाजी खिलाड़ी दीपिका कुमारी एवं हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान तथा सलीमा टेटे को बेहतर प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं भी दी। इस मौके पर राज्य के पर्यटन, कला, संस्कृति, खेल-कूद और युवा कार्य मंत्री हफिजुल हसन अंसारी ने खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया। वर्चुअल माध्यम से उन्होंने कहा कि पर्यटन,कला, संस्कृति खेल-कूद और युवा कार्य विभाग हर संभव राज्य के खिलाड़ियों की बेहतरी के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य करेगी। मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से पर्यटन, कला, संस्कृति, खेल-कूद और युवा कार्य विभाग की सचिव पूजा सिंघल, खेल निदेशक जीशान कमर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।



Find Us on Facebook

Trending News