कमलनाथ के महिला विरोधी बयान पर बिहार की सियासत गरमाई , सांसद सरोज पाण्डेय उपवास पर बैठी

कमलनाथ के महिला विरोधी बयान पर बिहार की सियासत गरमाई , सांसद सरोज पाण्डेय उपवास पर बैठी

पटना मध्यप्रदेश में उपचुनाव प्रचार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का इमरती देवी को लेकर दिया गया बयान अब तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है। महिलाओं के सम्मान को लेकर मध्यप्रदेश में जहां एक ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान समेत ज्यातिरादित्य सिंधिया व अन्य कद्दावर नेताओं ने मौन व्रत रखकर कमलनाथ के बयान का विरोध जताया तो वहीं दूसरी ओर बिहार चुनाव में प्रचार के लिए आईं राज्यसभा सांसद और भाजपा की वरिष्ठ नेत्री सरोज पांडे भी महिला कार्यकर्ताओं के साथ उपवास पर बैठकर विरोध जता रही हैं।

गौरतलब है कि मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की जुबान एक जनसभा के दौरान फिसली थी, जहां उन्होंने भाजपा उम्मीदवार इमरती देवी को आइटम कह दिया था। कमलनाथ के इस बयान के बाद सियासत गर्मा गया है और मध्य प्रदेश से बिहार तक सियासत तेज हो गई हैं। 

कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस बयान से बिहार कांग्रेस अपना पल्ला झाड़ती हुई दिख रही हैं। कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर की माने तो वह चाहे किसी भी पार्टी का नेता अगर महिलाओं के खिलाफ किसी भी तरह की टिप्पणी करता है तो उसे सहर्ष माफी मांगनी चाहिए और अगर इस तरह के बयान किसी महिला के लिए पूर्व मुख्यमंत्री ने दिया होगा तो उनको भी माफी मांगनी चाहिए।

साथ ही बीजेपी पर हमलावर होते हुए यह भी कहा कि महिला उत्पीड़न और महिलाओं पर अत्याचार सबसे ज्यादा भारतीय जनता पार्टी में होती है ऐसे में भारतीय जनता पार्टी का इस तरह का ढोल पीटना अनर्गल लगता है। बिहार विधानसभा चुनाव के बीच ऐसे खबर कांग्रेस के लिए मुसीबत बनती नजर आ रही है। अब देखना यह है कि कमलनाथ के इस बयान के बाद बिहार की सियासत पर क्या असर पड़ता है।

Find Us on Facebook

Trending News