कपिल सिब्बल ने कांग्रेस आलाकमान को लेकर फिर जतायी नाराजगी, कहा- हम 'हुजूर जी-23' नहीं है, पार्टी में सुधार के लिए बोलते रहेंगे

कपिल सिब्बल ने कांग्रेस आलाकमान को लेकर फिर जतायी नाराजगी, कहा- हम 'हुजूर जी-23' नहीं है, पार्टी में सुधार के लिए बोलते रहेंगे

Desk. पंजाब कांग्रेस में हो रहे उठापटक के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने एक बार फिर सोनिया गांधी को पत्र लिखकर नाराजगी जताई है. उन्होंने पार्टी की लीडरशिप पर सवाल उठाते हुए कहा कि, एक के बाद एक नेता पार्टी छोड़कर जा क्यों जा रहे हैं, इस पर पार्टी आलाकमान को मंथन करना पड़ेगा. साथ ही उनहोंने कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक करने की भी मांग की है.

सब्बल ने कहा, कि ''हम जी-23 नहीं हुजूर, यह बहुत स्पष्ट है. हम बात करते रहेंगे. हम अपनी मांगों को दोहराना जारी रखेंगे. बता दें कि कि कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल, उन 23 पार्टी नेताओं में से एक हैं, जिन्होंने पिछले साल कांग्रेस अध्यक्ष को एक पत्र लिखा था. उस पत्र में कई संगठनात्मक सुधारों की मांग की गई थी.

सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस को हम कमजोर होते नहीं देख सकते हैं. हम कितने समय से इंतजार कर रहे हैं. इंतजार की भी हद होती है. हम उन लोगों में से हैं, जो कांग्रेस के साथ खड़े रहे हैं. हमने कभी कांग्रेस के खिलाफ बयान नहीं दिया. आज भी नहीं दे रहे हैं. हम 'G-23 के नेता' उन लोगों में से नहीं हैं जो पार्टी छोड़कर कहीं और चले जाएंगे. जो लोग पार्टी नेतृत्व के करीब थे, वे पार्टी छोड़ चुके हैं और जिन्हें वे अपना करीबी नहीं मानते, वे अब भी उनके साथ खड़े हैं.

बता दें कि इस साल फरवरी 2021 में कांग्रेस के 23 नेता ने काग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, जिसमें गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल, शशि थरूर, मनीष तिवारी, आनंद शर्मा और जितिन प्रसाद जैसे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता थे. इसमें से जितिन प्रसाद कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गये हैं.


Find Us on Facebook

Trending News