शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़े के खेल का खुलासा, गबन के आरोप में नप गये DEO

शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़े के खेल का खुलासा, गबन के आरोप में नप गये DEO

KHAGARIA : खगड़िया के जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में शिक्षकों की नियुक्ति में बड़ा खेल उजागर हुआ है। जिला शिक्षा कार्यालय ने बिना सक्षम प्राधिकार के अनुमोदन के ही मान्यता प्राप्त गैर सरकारी अल्पसंख्यक स्कूल और आर्य कन्या उच्च विद्यालय, आर्य समाज रोड, खगड़िया में नियुक्त शिक्षकों को वेतन भुगतान कर दिया। वित्तीय अनियमितता और गबन का आरोप तत्कालीन जिला कार्यक्रम पदाधिकारी(स्थापना) सुरेश साहू पर लगा है। सुरेश साहू अभी उसी जिले में डीईओ के पद पर कार्य कर रहे हैं। 

डीईओ पर आरोप है कि बिना अनुमोदन के ही अवैध रूप से 22 लाख 50 हजार रुपये का वेतन भुगतान कर दिया। विभाग के पास जब इस मामले में शिकायत गयी तो वरीय अधिकारी से इसकी जांच करायी गयी। जांच में तत्कालीन जिला कार्यक्रम पदाधिकारी(स्थापना) सुरेश साहू पर वित्तीय अनियमितता और राशि गबन मामले में आरोप प्रमाणित हो गये। इसके बाद आरोपी डीईओ को प्राथमिक शिक्षा के निदेशक ने निलंबित कर दिया। 

निलंबन अवधि में सुरेश साहू का मुख्यालय जन शिक्षा निदेशालय, पटना होगा। इनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई अलग से शुरू की जायेगी। बता दें कि शिक्षा विभाग में गड़बड़ी का यह कोई नया मामला नहीं है। लगातार इस तरह की शिकायतें मिल रही हैं। पटना, बेगूसराय, नवादा, मुजफ्फरपुर व मोतिहारी सहित अन्य जिलों में अवैध तरीके से शिक्षकों के नियोजन और उनके वेतन भुगतान की शिकायत मिली है। शिक्षकों को अवैध वेतन भुगतान के मामले में पहले भी शिक्षा विभाग के कई अधिकारियों पर गाज गिरी है फिर भी ऐसे अधिकारी चेतने का नाम नहीं ले रहे हैं।      

Find Us on Facebook

Trending News