'चिकन की हड्डी' के लिए वफादार हुई पटना की खगौल पुलिस!, न्यूज कवरेज के दौरान थाना परिसर में ही मीडियाकर्मियों से की धक्का-मुक्की

'चिकन की हड्डी' के लिए वफादार हुई पटना की खगौल पुलिस!, न्यूज कवरेज के दौरान थाना परिसर में ही मीडियाकर्मियों से की धक्का-मुक्की

पटना. बिहार में गजब की है सुशासन की पुलिस! जिसकी नाक के नीचे खुलकर अपराधी वारदात को अंजाम दे जाता है, वह पुलिस पत्रकारों के सामने दादागिरी दिखाती है। वाकिया पटना के खगौल थाने का है। यहां न्यूज़ कवरेज करने आए मीडियाकर्मियों पर थाना परिसर में ही पुलिसकर्मी टूट पड़े और पत्रकारों के साथ धक्का-मुक्की और दुर्व्यवहार करने लगे। 

क्या है पूरा मामला

दरअसल, सोमवार की शाम दानापुर पीसीएस मोड़ स्थित ददन मटन हांडी में शाकाहारी भोजन पनीर खाने आरा शाहपुर के अखलेश सिंह आए थे, जो अपने-आप को चेयरमैन बता रहे थे। उनके शाकाहारी खाने में होटल वालों ने हड्डी से भरी थाली परोस दी। इसका विरोध करने पर होटल संचालक और स्टाफ ने अखिलेश सिंह और उनके साला दानापुर सगुना निवासी कर्ण सिंह के साथ मारपीट शुरू कर दी। 

बाद में मामला खगौल थाने में पहुंची तो थाना परिसर में घटना का वीडियो बना रहे पत्रकारों से ददन मटन हांडी के पहलवान और खगौल थाना के एएसआई कंचन कुमार सिंह ने घटना का वीडियो बनाने से मीडियाकर्मियों को रोका। इसके बाद जब मीडियाकर्मियों ने उनसे मामले को लेकर जनाना चाहा तो पहलवान और पुलिसकर्मी मीडियाकर्मियों से धक्का-मुक्की और दुर्व्यवहार करने लगे। 

 इधर, खबर चलने के बाद खगौल थानाध्यक्ष फूलदेव चौधरी ने न्यूज़ 4 नेशन को कहा कि दोनों के बीच समझौता के बाद बात को खत्म करा दिया गया है। पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार के घटना से उन्होंने साफ इनकार किया है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।


Find Us on Facebook

Trending News