खतरे के पार हो गयी बिहार की ये चार प्रमुख नदियां, तीन जिलों के कई गांव पानी में घिरे

खतरे के पार हो गयी बिहार की ये चार प्रमुख नदियां, तीन जिलों के कई गांव पानी में घिरे

Patna: बिहार की चार प्रमुख नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं, वहीं खगड़िया सीतामढ़ी मुजफ्फरपुर जिले में कई गांव पानी में गिर चुके हैं, पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से जहां खगड़िया में कोसी बागमती खतरे के निशान से ऊपर बहने लगे. वही उत्तर बिहार में बागमती, कमला बलान और लखनदेई के जलस्तर में वृद्धि जारी है. बताया जा रहा है कि सुपौल में कोसी धीरे धीरे अपने रौद्र रूप में आ रहा है और तटबंध के ऊपर दबाव बनाना शुरू कर दिया है.

मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में अगले 2 दिनों में 10 से 30 सेंटीमीटर बारिश होने के आसार हैं. संभावना जताई जा रही है कि अगर ऐसा हुआ तो कोसी, बागमती, कमला बलान और महानंदा जो पहले से ही खतरे के निशान से ऊपर बह रही है वह अपने रौद्र रूप में आ सकती है. महानंदा जहां 105 सेंटीमीटर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है तो कमला बलान जयनगर और झंझारपुर में लाल निशान से ऊपर है. कोसी नदी के बारे में बताया गया है कि बसवा में वस्ते 40 सेंटीमीटर तो बलतारा में 60 सेंटीमीटर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. साथ ही गंगा के जलस्तर में भी धीरे-धीरे वृद्धि हो रही है.

कोसी बागमती कमला बलान महानंदा लखनदेई के जल स्तर में वृद्धि होने की वजह से तटबंध के बीच बसे दर्जनों गांव में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. अररिया जिले के फारबिसगंज अनुमंडल में प्रमाण नदी का जलस्तर भी बढ़ गया है और गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है. 

Find Us on Facebook

Trending News